कोशिका भित्ति की परिभाषा | कार्य | खोज | उत्पत्ति || Koshika Bhitti kise kahate hai?

0

koshika bhitti

पादप कोशिकाओं के चारों ओर पाया जाने वाला सबसे बाहरी कठोर सुरक्षात्मक आवरण को कोशिका भित्ति (Cell Wall) कहते है| यह कोशिका को निश्चित आकृति और आकार प्रदान करती है|  

कोशिका की खोज रॉबर्ट हुक (Robert Hook) ने सन 1665 में की थी। साथ ही कोशिका भित्ति (Cell Wall ) की खोज भी रॉबर्ट हुक ने कॉर्क की पतली काट में मधुमक्खी के छत्ते के जैसे कोष्ठ देखे और इन्हें कोशिका (Cell) कहते है| कोशिका (Cell) शब्द की उत्पति लैटिन भाषा के शब्द ‘cellula’ से हुई, इसका तात्पर्य एक छोटा वेश्म (small compartment) होता है| 

कोशिका भित्ति क्या है? || Koshika Bhitti Kise kahte hai?  

कोशिका भित्ति (Koshika bhitti) पादप कोशिका में पाई जाती है| यह मुख्यतया निर्जीव पदार्थ सेलुलोस से बनी होती है| यह कोशिका को निश्चित आकार प्रदान करती है| 

कोशिका भित्ति (Koshika bhitti) दोहरी झिल्ली होती है जो प्लाज्मा झिल्ली के ऊपर पाई जाती है| कोशिका भित्ति (Koshika bhitti) केवल पादप (पेड़-पोधों) में पाई जाती है| 

कोशिका भित्ति किस-किस में पाई जाती है?

कोशिका भित्ति पादप, जीवाणु, शैवाल, कवक, आदि में पाई जाती है|

कोशिका भित्ति के विभिन्न संगठन

  • कोशिका भित्ति पादपों में सेलुलोस और पेक्टिन की बनी होती है|
  • कोशिका भित्ति कवक में काईटिन की बनी होती है|
  • कोशिका भित्ति जीवाणुओं में पेप्टिडोग्लाइकन की बनी होती है|
  • कोशिका भित्ति शैवालों में सेलुलोस+galactain की बनी होती है|

कोशिका भित्ति किस पदार्थ से बनी होती है

कोशिका भित्ति किस पदार्थ से बनी होती है?

कोशिका भित्ति सेलुलोस की बनी होती है|

फंजाई की कोशिका भित्ति किस पदार्थ की बनी होती है?

फंजाई की कोशिका भित्ति काईटिन पदार्थ की बनी होती है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here