Kumkum Bhagya 1 December 2020 Written Update: रणबीर के कदम घर के बाहर पड़ते ही उसकी माँ को आया हार्टअटैक!

0

Kumkum Bhagya 1 December 2020, Kumkum Bhagya 1 December 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 1 December 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 1 December 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 1 December 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में हमने देखा कि कैसे रिया अपनी माँ और बहन को अपना मानने से मना करती है| प्रज्ञा उसकी बात सुन कर बहुत दुखी होती है| इस बीच रणबीर घर छोड़ने का विचार बना लेता है और आर्यन उसके माँ – पिता को बता देता है| प्रज्ञा, प्राची और रिया के बीच हुई बर्तालाप को सुन कर आलिया बहुत खुश होती है और तालियाँ भी बजाती है| अभि ने सोचा कि प्रज्ञा को यहाँ आ जाना चाहिए फिर अभी तक क्यों नहीं आई| तब वह उसे कॉल करने की सोचता है| प्राची अपनी माँ को लेकर अपने घर चली जाती है|

Kumkum Bhagya 1 December 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में इस एपिसोड के शुरुआत में, जब रणबीर अपने घर को छोड़ने के लिए अपना सामान पैक कर लेता है और उसके कमरे के बाहर कदम रखते ही वह अपनी माँ पल्लवी की बातों को बहुत याद करता है| फिर जैसे ही वह नीचे आता है, तब उसे पल्लवी, विक्रम और उसकी दीदा सामने खड़े दिखाई देते है| जब रणबीर वहां खड़े आर्यन को देखता है, तब वह समझ जाता है कि इसने इन्हें सब कुछ बता दिया है| तब आर्यन रणबीर से माफ़ी मांग कर निकल जाता है|

फिर रणबीर अपने माता – पिता से कहता है कि जब तुम्हे सब पता चल ही गया है, तो मुझे कुछ समझाने की जरुरत नहीं है| ये कह कर रणबीर चलता है और विक्रम उसके पिता उसे रोक लेते हैं और कहते हैं कि उस लड़की के लिए तुम हम सबको छोड़ दोगे| रणबीर अपने पापा को समझाते हुए कहता है कि मैं प्राची से बहुत प्यार करता हूँ और उसके बगेर मैं जी नहीं सकता हूँ| ये सुन कर विक्रम उसे समझाने की बहुत कोशिश करता है लेकिन विक्रम की किसी भी बात का उसपर कोई फर्क नहीं पड़ता है|

फिर उसकी माँ पल्लवी को गुस्सा आ जाता है और कहती कि विक्रम उसे मत रोको उसे जाने दो| विक्रम उसका हाथ छोड़ देता है| तब पल्लवी रणबीर से कहती है कि तू इस घर को छोड़ कर जा रहा है, उसी तरह बिजनेस और सारी प्रोपर्टी को छोड़ना होगा क्योंकि इस घर को छोड़ने के बाद इस पर तेरा कोई हक़ नहीं होगा? ये सुन कर रणबीर अपनी माँ से कहता कि मुझे ये सब नहीं चाहिए, मुझे तो सिर्फ प्राची चाहिए और तुम्हारा ये लालच मुझे रोक नहीं सकता है|

पल्लवी के लाख मना करने के बाद भी रणबीर घर छोडकर जाने लगता है| जैसे ही वो जाता है तभी पल्लवी उसका हाथ पकड लेती है और उसे लगता है कि मेरी माँ प्राची को स्वीकार करने के लिए तैयार हो गई हैं| रणबीर अपनी माँ से कहता है कि माँ मुझे पता था कि तुम मुझे बाहर नहीं जाने दोगे और प्राची को स्वीकार कर लोगे| रणबीर की बातें सुन कर पल्लवी ने कहा कि मैं मर जाउंगी लेकिन प्राची को स्वीकार नहीं करुँगी|

वो कहती है कि मैंने तुझे इसलिए रोका है कि अगर तूने इस घर की दहलीज को एक बार पार किया, तो इस घर के दरवाजे तेरे लिए हमेशा – हमेशा के लिए बंद होजाएँगे| फिर तू रहेगा कहाँ और खायगा क्या? ये सुन कर रणबीर ने कहा कि मेरा प्यार मुझे कम खर्चे में रहना और कम खाने में पेट भरना सिखा देगा| रणबीर अपनी माँ से कहता है कि जैसे तुमने मुझसे अभी कहा कि मर जाओगी लेकिन प्राची को स्वीकार नहीं करोगी, इसी तरह मैं भी मर जाऊँगा लेकिन प्राची को नहीं छोडूंगा|

रणबीर की बाते सुन कर पल्लवी को बहुत गुस्सा आ जाता है और उसका हाथ छोड़ देती है| पल्लवी ने कहा कि मैं तुझसे एक बार फिर कहती हूँ कि तेरे एक बार इस घर से जाने के बाद, इस घर में कभी नहीं आ पाएगा| रणबीर अपनी माँ से कहता है कि माँ मैं कभी नहीं आऊंगा| वो ये भी कहता है कि मैं आपका खून हूँ मर जाऊँगा लेकिन अपना किया वादा कभी नहीं तोडूंगा| फिर रणबीर अपने घर की दहलीज को पार करता है और उसकी माँ को हाटाटेक का दोहरा पड़ जाता है और वो बेहोश हो जाती है|

पल्लवी को बेहोश देख कर रणबीर अपने किये वादे को तोड़ कर अपनी माँ के पास आता है और पल्लवी को पकड लेता है| रणबीर अपनी माँ को होश में आने को कहता है लेकिन पल्लवी को होश नहीं आता है|

इधर प्राची अपनी माँ प्रज्ञा को लेकर अपने घर आ जाती है और सरिता आंटी प्राची को परेशान देख कर, उसे परेशानी का कारण पूछती है| तब प्राची सरिता आंटी से कहती है कि एसी कोई बात नहीं है माँ थक गई है इस लिए एसा फील कर रही हैं| फिर प्रज्ञा अपने कमरे में चली जाती है और सरिता आंटी प्राची को अपने पास रोक लेती है| फिर सरिता आंटी और शाहाना प्राची को पूछतीं है कि वहां क्या हुआ था? प्राची उन्हें कुछ नहीं बताती है| फिर अचानक प्राची का फोन बजता है|

प्राची का फोन बजता देख, शाहाना बताती है कि ये जरुर रणबीर का फोन होगा क्योंकि उसने पहले फोन कर के कहा था कि वो कुछ समय बाद यहीं आ जाएगा| ये सुन प्राची कहती कि कहीं वो किसी परेशानी में तो नहीं फस गया| मुझे फोन कर रणबीर को पूछना चाहिए लेकिन प्राची का फोन नहीं लगता है| प्राची रणबीर को फोन लगाने की बार – बार कोशिश करती है लेकिन उधर से कोई जबाब नहीं आता है|

इधर रिया अपने कमरे में बहुत रोती है और मीरा उसके कमरे का दरवाजा खटखटाती है| रिया उससे अपने आपको अकेला छोड़ने को कहती है| तब मीरा उससे कहती है कि मैं मीरा हूँ| फिर रिया उसे अंदर आने की इजाजत दे देती है और वो अन्दर आ जाती है| तब मीरा रिया को शांत्वाना देती है और कहती है कि तुम्हारी माँ तुम्हे बहुत प्यार करती है| लेकिन रिया उससे कहती है कि मेरी माँ मुझे प्यार नहीं करती वो तो सिर्फ प्राची से प्यार करती है|

फिर मीरा उसे समझाती है कि मैं भी तो तुमसे प्यार करती हूँ लेकिन तुम्हारी माँ की जगह नहीं ले सकती हूँ| तुमने सिर्फ अपनी माँ को देखा है लेकिन उसके आंशू नहीं देखे| ये सुन कर रिया प्रज्ञा के आंशू फैक बताती है| फिर वहां आलिया आ जाती है और रिया को प्रज्ञा के खिलाफ भड़काती है| वो कहती है कि तुम अपनी माँ से मिलना चाहती हो ताकि वो तुम्हे जेल भेज दे| मीरा आलिया को ये सब कहने से रोकती है लेकिन आलिया उसकी एक बात नहीं मानती है| आलिया की बाते सुन कर रिया गुस्से से बाहर चली जाती है और उसे रोकने के लिए आलिया उसके पीछे जाती है|

इधर विक्रम अपनी कार में पल्लवी को अस्पताल ले जाता है और रणबीर अपनी माँ से होश में आने को कहता है और पल्लवी को कुछ समय के लिए होश आ जाता है| तब पल्लवी रणबीर से कहती है कि तू मुझे कभी छोड़ कर तो नहीं जाएगा और रणबीर अपनी माँ से कहता है कि माँ मैं अब तुम्हे कभी छोड़ कर नहीं जाऊँगा| फिर पल्लवी बेहोश हो जाती है|

इधर प्रज्ञा रिया के बचपन की तस्वीर को देख – देख कर बहुत रोती है और उसे याद करती है| फिर अभि प्रज्ञा को फोन करता है लेकिन नेटवर्क की बजह से फोन नहीं लगता है| फिर अभि प्राची को फोन करता है और प्राची अपने मोबाइल को देख कर चौक जाती है| तब सरिता आंटी प्राची से पूछती है कि किसका फोन है? फिर प्राची सरिता जी को बताती है कि पापा का फोन है| ये सुनते ही शाहाना कहती है कि तुमने जो रिया से कहा होगा, वो उसने अपने पापा को बता दिया होगा इस लिए वे तुझे डाटने के लिए फोन कर रहे है|

प्राची अभि का फोन नहीं उठाती है और अभि एक बार फिर फोन करता है लेकिन आलिया की आवाज सुनते ही वो फोन काट देता है और बाहर जाकर देखता है कि रिया बहुत गुस्से में चली जा रही है और आलिया उसे रोकने की कोशिश कर रही है| जब अभि ने आलिया से पूछा कि इसे क्या हुआ तब आलिया उसे बताती है कि पता नहीं इसे क्या हुआ है? फिर अभि भी रिया को रोकने की कोशिश करता है|

इधर रणबीर, विक्रम और उसकी दीदा पल्लवी को अस्पताल में ले आते है और उसे एडमिट करा देते है| रणबीर अपने आपको कोसता है कि ये सब उसकी बजह से हुआ है और विक्रम उसे शांत्वाना देता है| फिर रणबीर अपनी माँ को एक खिड़की में लगे शीशे से देखता है|

(‘बस अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here