Kumkum Bhagya 14 December 2020 Written Update: प्रज्ञा को अभि की होने वाली पत्नी समझ कर सोपिंग्मोल के ओनर ने उसे पहनाया पचास करोड़ का हार!

Kumkum Bhagya 14 December 2020, Kumkum Bhagya 14 December 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 14 December 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 14 December 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 14 December 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे रणबीर रिया से शादी के लिए हाँ करता है और रिया के कहने पर अभि मीरा से सोपिंग करने के लिए कहता है| कुछ गुंडे प्रज्ञा ने धक्का देते है और प्राची उनसे उलझने लगती है| अभि सोपिंग्मोल के ओनर को अपनी बेटी रिया और मीरा के बारे में बताता है लेकिन ओनर प्रज्ञा और प्राची को देख लेता है| इस बीच, सरिता और शाहाना चैन के पीछे झगडा करते हैं| फिर सोपिंग्मोल का ओनर प्रज्ञा और सरिता जी को सोपिंग करने का आदेश देता है और प्रज्ञा चौंक जाती है|

रणबीर बहुत दुखी होता है और अपनी प्रति छाया से बाते करता है और आलिया उसे कम्पनी में इन्वोल करने को कहती है| अभि अपनी शादी के कार्ड मांगता है और जब घूमता है, तो प्रज्ञा को अपने सामने खड़ा पाता है|

Kumkum Bhagya 14 December 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब प्रज्ञा आती है और उसका सामना मीरा से हो जाता है| मीरा को रिया को पालपरोष कर इतना बड़ा करने के लिए उसे धन्यवाद देती है लेकिन मीरा को लगता है कि प्रज्ञा अब मुझसे अभि के साथ शादी करने के लिए मना करेगी लेकिन प्रज्ञा उससे कहती है कि तुम बहुत अच्छी हो और मैं तुम्हारा कर्ज कभी नहीं चूका पाऊँगी| फिर प्रज्ञा उससे कहती है कि अगर तुम्हे कभी मेरी जरुरत पड़े तो बेझिझक मुझे बुलाना मैं जरुर आउंगी| फिर प्रज्ञा चली जाती है और मीरा सोचती रह जाती है|

इधर टोनी और सारे वर्कर्स काम में लगे होते हैं| फिर टोनी सभी वर्करसों को बाहर निकाल देता है और उसके साथ केवल उसके दो साथी रह जाते हैं| तब वे पूरी ज्वेलरी को लूटने की बात करते हैं लेकिन उन्हें एक पचास करोड़ का हार नहीं मिलता है और टोनी उस हार को बहुत ढूंढता है लेकिन उसे उस लोकर की चाबी नहीं मिलती है जिसमे वो हार रखा था इसलिए वो पचास करोड़ के हार को नहीं प्राप्त कर पाता है| फिर टोनी के तीन साथी और बंदूक लेकर आ जाते हैं और एक – एक बन्दूक सभी ले लेते हैं और हार को प्राप्त करने की योजना बनाते हैं|

इधर मीरा आलिया को फोन करती है और आलिया उसे पूछती है कि सोपिंग अच्छी तरह हुई या नहीं लेकिन मीरा आलिया को प्रज्ञा के बारे में बताती है और आलिया उससे कहती है वो बहुत चालक है, उससे बच कर रहना लेकिन मीरा आलिया को प्रज्ञा एक अच्छी और संस्कारी औरत बताती है| ये सुन कर आलिया भड़क जाती है और मीरा से कहती है कि वो अच्छी नहीं तुम अच्छी हो इसलिए तुम्हे प्रज्ञा अच्छी औरत लग रही है| आलिया मीरा को प्रज्ञा के बारे में गलत सलत बताकर उसे उसके खिलाफ करने की कोशिश करती है|

आलिया उससे कहती है कि अगर वो अच्छी औरत होती, तो अपनी बेटी को जेल क्यों पहुंचाती| ये सुन कर मीरा सोच में पड जाती है| आलिया मीरा से अभि के साथ रहने को कहती है| मीरा हाँ कह कर फोन काट देती है और आलिया सोचती है कि कहीं मीरा प्रज्ञा के भावनाओं में बहकर शादी से नकार न करदे और अगर एसा हुआ तो मेरा सारा खेल ख़राब हो जाएगा| फिर आलिया चली जाती है|

इधर अभि को सोपिंग्मोल के ओनर के साथ जाते हुए प्रज्ञा देखती है तो खड़ी रह जाती है और मीरा प्रज्ञा को देख लेती है| फिर प्रज्ञा उदास होकर चली जाती है और मीरा सोचती है कि एक बार प्रज्ञा से पूछना चाहिए कि इस शादी से उसे कोई एतराज तो नहीं है| फिर मीरा भी चली जाती है|

इधर रिया रणबीर के लिए ज्वेलरी पसंद करती है| तब वो शाहाना और प्राची को देख लेती है और शाहाना और प्राची आपस में बहुत बाते करती हैं लेकिन अचानक से शाहाना उसे देख लेती है और रिया शाहाना से नजरें छुपाकर निकलने की कोशिश करती है| फिर शाहाना रिया को रोक लेती है और उससे कहती है कि तेरी बजह से मेरी मौसी कितनी परेशान रही है| शाहाना उसे बहुत कुछ सुनाती है और वोर्निग भी देती कि अब की बार तेरी बजह से मेरी मौसी को कुछ भी हुआ, तो मैं तेरे घर में आ कर तेरी हालत ख़राब कर दूंगी|

जैसे शाहाना जाती है और रिया उसका हाथ पकड लेती है और उसे बहुत भला बुरा सुनाती है| रिया उससे कहती है कि तुम मेरी रियल बहन की बहन और रियल माँ की बेटी नहीं हो, वो तो तुम मेरी माँ को मिल गई थी इसलिए तुम्हे पाल रखा है और तुम तो हमारे कोई रिश्तेदार भी नहीं हो| ये सुन कर प्राची रिया से कहती है कि रिया तुम रिश्ते की बात करती हो| प्राची उससे कहती है कि सगा रिश्ता ही रिश्ता नहीं होता है| रिश्ते तो प्यार से बनते हैं लेकिन तुम रिश्तों की कीमत नहीं जानती हो|

शाहाना भलेही माँ की बेटी नही है लेकिन उसने बेटी का हर फ़र्स अदा किया है| इसलिए वो मेरी बहन है| रिया उसे वोर्निग देती है कि कुछ समय बाद मैं भी दिखा दूंगी कि रिश्ते क्या होते हैं? फिर रिया वहां से चली जाती है|

इधर सोपिंग्मोल का ओनर अभि को टोनी के पास ज्वेलरी दिखाने ले आता है और ओनर को देख कर टोनी और उसके साथी काम पर लग जाते हैं| फिर ओनर एक लेडी वर्कर को अभि कि पत्नी को बुलाने भेज देता है|

इधर सरिता जी सोपिंग कर लेती है और चाए के लिए आर्डर कर देती है| तब उसके पास प्रज्ञा आ जाती है और सरिता जी प्रज्ञा से भी सोपिंग करने को कहती है| लेकिन प्रज्ञा सोपिंग करने से इंकार कर देती है| फिर एक लेडी वर्कर प्रज्ञा को लेने आ जाती है और उसे ले जाने की बात करती लेकिन प्रज्ञा उसके साथ जाने से मना कर देती है| फिर वो लेडी वर्कर उसे कहती है कि मेडम तुम मेरे साथ नहीं गय तो मेरी न नौकरी चली जाएगी| तब प्रज्ञा को मजबूरन उसके साथ जाना पड़ता है|

इधर एक लेडी वर्कर मीरा को लेने आती है और मीरा उसके साथ चली जाती है| तब टोनी हाथ में हार और उसके डिब्बे के नीचे चाकू छिपाकर ले जाता है लेकिन उससे एक औरत टकरा जाती है, जिसके कारण टोनी के हाथ से वो हार का डिब्बा और चाकू छूट जाता है लेकिन उस औरत को मीरा पकड़ लेती है और उसे उसका हाल पूछती है| तभी टोनी हार के डिब्बे और चाकू को उठा लेता है और मीरा उस औरत को एकांत में लेजाती है|

इधर प्रज्ञा उस ओनर के पास पहुँच जाती है और प्रज्ञा के मना करने के बावजूद वो लेडी वर्कर उसे पचास करोड़ का हांर पहना देती है| जब अभि आता है तो प्रज्ञा को देख कर शोक रह जाता है| फिर वहां मीरा और रिया भी आ जातीं हैं वे भी प्रज्ञा को देख कर शोक रह जाती हैं| फिर मीरा वहां से चली जाती है और रिया प्रज्ञा से कहती है कि तुम्हारी छीनने की आदत जाएगी नहीं| रिया प्रज्ञा से बुरा भला कह कर चली जाती है और प्रज्ञा अभि के सामने कहती है कि मैं इनकी पत्नी नहीं हूँ|

ये सुन कर ओनर और लेडी वर्कर चौंक जाते है और सोरी बोलते हैं| अभि से कहते है कि इनके मना करने के वाबजूद हमने इन्हें हार पहनाया है| फिर प्रज्ञा उस ज्वेलरी को उतरने की कोशिश करती है जो उसने पहनी थी| लेकिन अभि प्रज्ञा का हाथ पकड कर अपने साथ ले जाता है और ओनर टोनी को चाबी दे देता है और प्रज्ञा पर नजर रखने को कहता है|

इधर रणबीर आलिया की ऑफिस आ जाता है लेकिन उस ऑफिस में उसे आलियां नहीं मिलती है| फिर रणबीर प्राची को सारी बातें बताने के बारे में सोचता है और उसे फोन करने की कोशिश करता है लेकिन फिर उसका मन हट जाता है कि ये सब बाते प्राची को फोन पर बताना अच्छा नहीं रहेगा|

इधर टोनी और उसके साथी ज्वेलरी स्टोर की सारी ज्वेलरी चार बैगों में भर लेते हैं और पचास करोड़ के हार को लेने की बात करते है और कहते है कि वो पचास करोड़ का हार उस औरत के पास है जिसका नाम प्रज्ञा है| हार मिलजाने के बाद प्रज्ञा का गला काटने की बात करते हैं|

इधर अभि प्रज्ञा को एक कमरे में ले जाता है और प्रज्ञा उस पर बहुत चिल्लाती है| अभि उसे शांत करने की बहुत कोशिश करता है लेकिन प्रज्ञा शान नहीं होती और अभि को उसके नाम से पुकारती है| अभि अपना नाम उसके मुहँ से सुन कर चोंक जाता है| फिर वे दोनों शांत हो जाते हैं और मानशिक तोर से वे एक – दूसरे से बात करते हैं| प्रज्ञा कहती है कि क्या मरे कहने से तुम शादी करने से इंकार कर दोगे और अभि कहता है कि तुम एक बार बोल कर तो देखो मैं अपनी जान भी दे दूंगा और एक दूसरे के साथ बीते हुए पलों को याद करते हैं|

(‘अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here