Kumkum Bhagya 20 November 2020 Written Update: प्रज्ञा और रिया को खुश देख कर आलिया की आँखों पर हुआ खून सवार!

0

Kumkum Bhagya 20 November 2020, Kumkum Bhagya 20 November 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 20 November 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 20 November 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 20 November 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में. हमने देखा कि कैसे रणबीर संजू की पिटाई करता है और संजू उसमे धक्का देकर भाग जाता है| प्रज्ञा रिया को रोता हुआ देख कर उसे शान्त्वना देते हुए उसके आंशू पोंछती है और रिया उसका प्यार झूंठा बताती है| रणबीर प्राची, शाहाना और सरिता आंटी को उनके घर ड्रॉप कर देता है| इस बीच, प्रज्ञा रिया को रोक कर उससे अपनी बेटी मांगती हैं| अभि भगवान से उन दोनों माँ बेटी को एक होने की दुआ मांगता है| रिया और प्रज्ञा को एक दूसरे के गले से मिला देख आलिया के होश उड़ जाते है|      

Kumkum Bhagya 20 November 2020 Full Episode

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब आलिया अपने कमरे में बहुत गुस्से से आती है और वहां रखी चीजें तोडती है, जोर – जोर से चिल्लाती है| फिर उसकी आवाज सुनकर बिताली उसके पास आजती है और गुस्सा होने का कारण पूछती है लेकिन आलिया के मुहँ से एक शब्द नहीं निकलता है और बिताली उसकी ख़ामोशी देख कर पहचान जाती है कि प्रज्ञा और रिया का मिलन हो गया है इस लिए आलिया गुस्से में है| तब बिताली उससे कहती है कि अब तुम्हे और मुझे यहाँ नौकरानी का काम करना पड़ेगा|

बिताली प्रज्ञा, रिया और मेहरा के मिलन की बात जानकर बहुत बडबडाने लगती है और आलिया उसे शांत रहने और सोचने को कहती है लेकिन बिताली शांत नहीं होती और बडबडाती हुई वहां से बाहर चली जाती है| फिर आलिया कहती है कि मुझे बाजी पलटनी होगी|

इधर प्रज्ञा और रिया एक दूसरे के गले से लग कर बहुत खुश होतीं है और रिया प्रज्ञा से कहती है कि जितना तुमने प्राची से प्यार किया है, उतना ही प्यार तुम्हे मुझसे करना होगा| ये सुन कर प्रज्ञा हाँ कर देती है लेकिन रिया ने कहा कि प्यार बराबर कैसे करोगी? फिर रिया प्रज्ञा से कहती है कि मुझे तुम अपने पास रखलो और प्राची को डेड के पास भेज दो| ये सुन कर अंजली दादी कहती है ताकि आज तक तुझे लगा, वही उसे लगे| दादी उन्हें समझाती है कि अब अलग – अलग नहीं, सब साथ रहो और एक दूसरे ख़ुशी दो|

ये सुन कर प्रज्ञा और रिया बहुत खुश होती है और प्रज्ञा रिया से कहती है कि मैंने अभी प्राची को नहीं बताया कि तुम उसकी बहन हो| यदि उसे पता चला कि तुम उसकी बहन हो तो वो तुम्हे बहुत प्यार करेगी| फिर अंजली दादी उन दोनों को अपने गले से लगा लेती है और उन दोनों को एक होने की बात अभि को बताने चली जाती है|

इधर शाहाना रणबीर को देख – देख कर बहुत खुश होती है| उसे देख कर सरिता आंटी शाहाना से कहती है कि शाहाना तू क्या पागल हो गई है, जो रणबीर को देख – देख कर हसे ही जा रही है| ये सुन कर शहाना ने कहा कि मैं ये सोच रही हूँ कि मुझे जहर कहाँ मिलेगा जिससे मेरी आवाज मीठी हो जाए| शहाना की बात को रणबीर समझ जाता है और वहां प्राची चाए लेकर आ जाती है लेकिन शहाना उसे बताती है कि प्राची तुम्हारे बारे में क्या – क्या कहती थी और उसे बहुत चिढाती है|

फिर चाए लेकर सरिता आंटी शहाना को अपने साथ कमरे में ले जाती है| तब प्राची अपने कमरे में चली जाती है और उसके पीछे रणबीर भी चला जाता है|

इधर अंजली दादी अभि को बताती है कि प्रज्ञा और रिया एक हो गय हैं| ये सुन कर अभि भगवान का धन्यबाद करता है और प्रज्ञा और रिया से मिलने चला जाता है| अभि एक गेस्ट को पूछता है कि आपने रिया को देख है, वह अभि को बता देता है कि रिया एक मेडम के साथ ऊपर टैरिश पर गई है| ये जानकर अभि उनसे मिलने ऊपर टैरिश पर चला जाता है|

इधर बिताली अभि, प्रज्ञा और रिया को लेकर बहुत परेशान होती है और अपने आप से बातें करती है कि अब प्रज्ञा इस घर में आकर मुझे नौकरानी बनाएगी और अपना हुख्म चलाएगी| बिताली ये सोच – सोच कर बहुत परेशान होती है और नौकरों की प्रेक्टिश भी करती है| फिर बड़बड़ाती हुई चली जाती है|

इधर प्राची अपने कमरे में पहुच जाती है और उसके पीछे रणबीर भी आ जाता है| तब रणबीर प्राची से पूछता है कि तुम पहले मेरे बारे में बहुत बुरा भला सोचती थी, एसा मुझे शहाना ने बताया है| प्राची कहती है कि मैं पहले आपको नहीं जानती थी इस लिए, फिर मैंने आपको जाना, पहचाना कि तुम बुरे नहीं हो, तुम बहुत अच्छे हो| ये सुन कर रणबीर बहुत खुश होता है और उसे पूछता है कि मैं तुम्हारे कहने पर अन्दर क्यों आया और शहाना के कहने पर क्यों नहीं आया? ये सुन कर प्राची रणबीर से कहती है कि शहाना ने तुम्हे नहीं बताया|

रणबीर प्राची से कहता है कि उसने तो मुझे बताया है लेकिन मैं तुम्हारे मुहँ से सुनना चाहता हूँ| ये सुन कर प्राची शांत रह जाती है और रणबीर को बताने को कहती है| तब रणबीर कहता है कि मैं रोकना, टोकना, डांटना, कहना सिर्फ तुमसे सुनना चाहता हूँ, फिर उसके कहने से अन्दर क्यों आता| ये सुन कर प्राची बहुत खुश हो जाती है और वे दोनों बहुत प्यार भरी बाते करते है| प्राची रणबीर से कहती है कि जब तुम मेरे साथ होते हो, तब मुझे लगता है कि मेरी मंजिल मेरे साथ – साथ चल रही है| ये सुन कर रणबीर बहुत खुश होता है| फिर वे दोनों चाए पीते हैं|

इधर अभि टैरिश पर पहुँच जाता है और देखता है कि प्रज्ञा और रिया साथ – साथ दीपक जला रहीं हैं| अभि उन्हें एक साथ देख कर वह बहुत खुश होता है और उन दोनों को अपने गले से लगा लेता है| फिर रिया वहां पटाखे चलाती है जिससे प्रज्ञा को बहुत डर लगता है और अभि उसे अपने गले से लगा लेता है| रिया अभि और प्रज्ञा को एक दूसरे के गले से लगा देख उसे बहुत सुकून मिलता है|
(‘अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,)

Leave a Reply