Kumkum Bhagya 21 September 2020 Written Update : मदन द्वारा अपहरण की गई दुल्हन उसकी कैद से हुई फरार!

0

Kumkum Bhagya 21 September 2020, Kumkum Bhagya 21 September 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 21 September 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 21 September 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 21 September 2020 Written Update

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि अभि कैसे शादी में पहुंचे और उसे रोकने रोकने की कोशिश की| लेकिन आलिया ने उसे रोकने नहीं दिया क्योकि उसने सोचा था कि रिया ने माया को मंडप में बदल दिया था और प्राची और माया दोनों का अपहरण कर लिया गया था| इस बीच, प्राची रणबीर के साथ मंडप में बैठ गई और शादी की रस्मे जरी रहीं|

Kumkum Bhagya 21 September 2020 Full Episode

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में माया के बड़े पापा दुष्यंत सिंह पंडित को शुरू से मंत्र पढ़ने का आदेश दे देते हैं| तब पंडित शादी के मंत्र पढने लगता है| फिर कुछ समय बाद पंडित ने दुष्यंत सिंह से कहा, मैं आगे मंत्र तब तक नहीं पढ़ सकता, जब तक वरवधू के पिता आकर दूला दुल्हन का गठबंधन न करेंगे, तब माया के पापा गठबंधन के लिए आगे बढ़ते हैं, लेकिन दुष्यंत सिंह माया के पापा को रोक देते हैं| दुष्यंत सिंह ने माया के पापा से कहा, छोटे तुझे पता नहीं हमने क्या फेसला लिया था? कि हमरी बेटी माया का गठबंधन मिस्टर मेहरा करेंगे|

फिर दुष्यंत सिंह ने गन पॉइंट पर रख कर मिस्टर मेहरा से कहा, चलो अब तुम वरवधू का गठबंधन करो| तब मिस्टर मेहरा को मजबूरन वरवधू का गठबंधन करना पड़ता है| मिस्टर मेहरा ने गठबंधन करते समय रणबीर से कहा, तुम चिंता मत करो, मैं ये शादी नहीं होने दूंगा| लेकिन रणबीर नहीं चाहता कि उसकी शादी रुक जाए| उसके बाद मिस्टर मेहरा ने किसी अपने आदमी को मेसेज किया कि तुम्हे यहाँ आने में कितना टाइम लगेगा| तब उधर से रिप्लाई आया, कि हमें आने में पाँच मिनट लगेगीं|

इधर प्रज्ञा रात के अँधेरे में रोड पर अपने मोबाइल में कुछ करती आ रही थी| तभी सामने से मदन भी अपनी कार बहुत तेजी से ला रहा था, तब अचानक मदन का मोबाइल कार में ही गिर पड़ा, तो मदन उस मोबाइल को उठाने लगा| लेकिन जब उसने देखा की सामने कोई महिला आ रही है, तब मदन ने बहुत तेजी से ब्रेक लगाए और प्रज्ञा का एक्सीडेंट होने से बच गया| लेकिन प्रज्ञा डर जाती है| तब प्रज्ञा ने मदन को बहुत सुनाया, लेकिन प्रज्ञा की बातों को अनसुना कर मदन वहां से चला जाता है|

फिर प्रज्ञा के मोबाइल पर सरिता आंटी ने फ़ोन किया| तब प्रज्ञा ने सरिता आंटी को पूछा कि कहाँ हो तुम सब? पता है, में कितनी टेंशन में थी,  और तुमने मेरी कॉल क्यों नहीं उठाई? तब सरिता जी ने कहा, हम सब एक केन्टीन में आये है, किसी की मदद करने इसलिए थोड़े काम में व्यस्त होने की बजह से तुम्हारी कॉल नहीं उठा पाई| तब प्रज्ञा ने कहा, कोई बात नहीं, अब तुम मेरी बात प्राची से करादो, तब सरिता आंटी ने नेटवर्क का बहाना कर प्रज्ञा का कॉल कट कर देती है|

इधर मदन दोनों दुल्हनों का अपहरण कर अपने आड्डे पर आ जाता है और अपने दो साथ के गुंडों को माया और रिया को कस के बांध ने का आदेश दे देता है| तब वे दोनों गुंडे माया और रिया को एक कुर्सी पर एक रस्सी से कस के बांध देते हैं| तब मदन ने अपने साथ के गुंडों से कहा, इन दोनों दुल्हन में से एक को मारना है| लेकिन किसे मारना है, और किसे जिन्दा रखना है ये तो बताया नहीं मेडम ने नाहीं कोई फोटो दी?

तब मदन आलिया के पास एक मेसेज करता है, कि मैं एक बहुत बड़ी उलझन में हूँ, की किसे मारूं किसे जिन्दा रखूं, ये जानने के लिए मैं वीडियो कॉल करता हूँ, तब मदन कॉल भी करता है| लेकिन आलिया शादी में व्यस्त होने के कारण मदन की कॉल नहीं उठा पाती है| तभी अचानक रिया को होश आ जाता है, और मदन की सारी बात सुन लेती है| तभी रिया जोर लगा कर अपना एक हाथ खोल लेती है, और वहां से भागने के मोके के लिए रिया बेहोशी का नाटक करती है|

इधर आर्यन और शाहाना राहुल को कॉफ़ी पिलाकर होश में लाने की कोशीश करते हैं| लेकिन राहुल को होश नहीं आता है| फिर जब मंडप में आलिया मदन का मेसेज पढ़ती है, तब आलिया मदन से वीडियो कॉल करने के लिए एकांत में जाती है| तब आलिया आर्यन और शाहाना की आवाज सुनती है, और उन दोनों के पास पहुँच जाती है|

तब आलिया ने आर्यन से कहा, ये कौन है? तब आर्यन ने बताया कि ये माया का बॉयफ्रेंड राहुल है, ये मंडप में जाकर अपने प्यार की पूरी सच्चाई बतादे, इसलिए हम इसे होश में लाने की कोशिश कर रहे हैं| तभी आलिया के पास मदन का वीडियो कॉल आ जाती है, तब आलिया आर्यन और शाहाना की बातों को अनसुनी कर मदन से बात करने एकांत में चली जाती है|

फिर आलिया एक कमरे में जाकर मदन से बात करती है और उससे कहा, चलो मुझे वे दोनों दुल्हनों को दिखाओ तब मैं बताउंगी, कि किसको मारना है? और किसको जिन्दा रखना है? तब जैसे ही मदन रिया को दिखाने जाता है, तभी रिया मदन को एक काँच के टुकड़े से घायल कर देती है, और वहां से भाग जाती है| तब मदन अपने साथियों को बुलाता है, और रिया का पीछा करता है| तब तक माया को भी होश आ जाता है और माया समझ लेती है, कि मेरा अपहरण प्राची ने करवाया है|

फिर माया भी वहां से भागने की कोशिश करती है| लेकिन माया को मदन पकड़ लेता है, और रिया वहां से भंगे में कामयाब हो जाती है|

इधर माया के पापा अपने बड़े भाई दुष्यंत सिंह का शुक्रिया अदा करते है| तब दुष्यंत सिंह ने कहा, छोटे सुक्रिया क्यों? तब माया के पापा ने कहा, अगर तुम नहीं होते तो माया की शादी उसके मन पसंद के लड़के से नहीं हो पाती| तब माया की माँ ने कहा, माय की शादी उसके मन पसंद के लड़के के साथ जरुर हो रही है| लेकिन मुझे माया की चिंता हो रही है| क्योकि माया को उस घर में कोई पसंद नहीं करता है| तब दुष्यंत सिंह ने कहा, तो एसा क्या किया जाए? जो माया की ख़ुशी उसके ससुराल वालों की मज़बूरी बन जाए|

इधर मिस्टर मेहरा को ये संदेश मिल जाता है, कि मिस्टर मेहरा ने जिन लोगों को बुलाया था, वो लोग आ चुके हैं| तब मिस्टर मेहरा और विक्रम अपने बुलाए लोगों से मिलने चले जाते हैं| तब माया के पापा समझ जाते है, कि मिस्टर मेहरा के दिमाग में कोई बहुत बड़ी साजिश चल रही है| इधर जब मिस्टर मेहरा अपने बुलाए लोगों से मिलते हैं, तब मिस्टर मेहरा के लोग उन्हें दो बन्दूक देते है| तब मिस्टर मेहरा और विक्रम एक – एक बन्दूक ले लेते हैं|

Leave a Reply