Kumkum Bhagya 22 September 2020 Written Update : क्या प्राची ये शादी रुकवाने में कामयाब होगी?

0

Kumkum Bhagya 22 September 2020, Kumkum Bhagya 22 September 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 22 September 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 22 September 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 22 September 2020 Written Update

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे प्राची और रणबीर ने गठबंधन बंधा और अभि ने अनुष्ठान किया| इस बीच, रिया और माया अपहरणकर्तओं से भाग गईं और शादी में वापस जाने की कोशिश की| दूसरी ओर, आलिया ने अभि को शादी को बाधित करने से रोकने की कोशिश की क्योकि उसे लगता है कि यह मंडप में रिया है| इद्जर शादी रोकने के लिए अभि अपने किराए के लोगों को बुला लेता है|

Kumkum Bhagya 22 September 2020 Full Episode

KUmkum Bhagya के के आने वाले एपिसोड में, हम देखेंगे कि प्राची ने रणबीर को शादी रोकने के लिए कहा या उसे खुद एसा करना पड़ेगा| लेकिन उन्हें शादी रुकने की आवाज सुनाई देती है| पता चला कि माया शादी रुकवाने के लिए कह रही है| पल्लवी रणबीर से पूछती है कि अगर वह से शादी नहीं करना चाहता है तो वह लड़की कौन है जिससे वह शादी कर रहा है| प्राची अपना घूँघट उठाती है और पता चलता है कि वह दुल्हन है|

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब अभि के बुलाए हुए गुंडे अभि और विक्रम को एक-एक गन दे देते हैं तब विक्रम ने अभि से कहा, एसा क्यों अरे शादी तो हम गन के बिना भी रोक सकते हैं| फिर अभि ने कहा, जब दुष्यंत सिंह हमें गन से डरा कर ये शादी करा सकता है तो हम उसे इन गनों से डरा कर ये शादी नहीं रोक सकते| तब विक्रम मान जाते है और अभि गन और गुंडों को लेकर मंडप की ओर चले जाते हैं|

इधर रिया भागती हुई आ रही थी और उसके पीछे दो गुंडे भी उसे पकड़ने के लिए भागते आ रहे थे| तब रिया ने किसी अंजान व्यक्ति से मोबाइल लिया और अपने पापा अभि को फोन करने के लिए नम्बर डाइल किया, लेकिन तभी रिया का एक्सीडेंट हो जाता है| तब वहां के लोग पुलिस को बुलाने की बात करते है| तब मदन और उसके साथी पुलिस का नाम सुनते ही वापिस लोट जाते हैं|

लेकिन रिया का जिसने एक्सीडेंट किया वो भी एक महिला थी, उसने कहा, हम पुलिस को तो बाद में भी बुला सकते हैं लेकिन सबसे पहले इसे हॉस्पिटल पहुँचाना बहुत जरुरी है| तब वहां के लोगों ने रिया को उस महिला की कार में रखवा दिया और वो महिला रिया को एक हॉस्पिटल में एडमिट करा देती है|

फिर वही महिला मिस्टर मेहरा को कॉल कर बताती है कि आपकी बेटी का एक्सीडेंट हो गया है| और मेंने उसे एक हॉस्पिटल में एडमिट करा दिया है| वो महिला अभि को उस हॉस्पिटल का नाम भी बता देती है|तब अभि अपनी गन विक्रम को देकर वो हॉस्पिटल में अपनी बेटी रिया को देखने चले जाता हैं|

इधर मदन और उसके साथी वापिश अपने अड्डे पर आ जाते हैं| तब मदन ने अपने सभी साथियों से कहा, अब जल्द से जल्द इस अड्डे को खली करो क्योंकि यहाँ कभी भी पुलिस आ सकती है| तभी माया मदन के साथ गुंडों में से एक चन्दन नाम के गुंडे को पहचान लेती है| तब चन्दन माया को खोलने लगता है| तब मदन ने चन्दन को पूछा कि तुम इसे जानते हो तब चन्दन ने बताया कि ये मेरे बॉस की लड़की है और अभी इसे नहीं छोड़ा तो गोलियां चलेगीं| तब चन्दन माया को मंडप में ले जाता है|

इधर प्राची ने रणबीर से कहा, कि रणबीर इस शादी को यहीं रोक दो| तब रणबीर मना करता है| फिर प्राची ने कहा, अगर इस शादी को तुमने नहीं रोका तो में रोक दूंगी| जब प्राची तीन तक गिनती पढ़ने को कहती है कि मेरे तीन तक बोलने पर तुमने ये शादी नहीं रोकी तो मैं खुद ये शादी रोक दूंगी| जब प्राची दो तक गिनती बोल पाती है, तब तक माया ने मंडप में आ कर कहा, कि ये शादी नहीं हो सकती|

तब दुष्यंत सिंह माया को देख कर चौंक जाते है कि जब माया यहाँ है तो मंडप में रणबीर के साथ कौन है? तब प्राची से रणबीर की माँ ने घूँघट उठाने को कहा| तब प्राची अपना घूँघट उठाती है| प्राची को देख कर दुष्यंत सिंह पुलिस को कॉल कर देता है| तब सरिता आंटी प्रज्ञा को कॉल कर वहां हुई सब बात बता देती है| ये बातें सुन प्रज्ञा बहुत घबरा जाती है| सरिता आंटी प्रज्ञा को ये भी बताती है कि माया के बड़े पापा ने प्राची को अरेस्ट करवाने के लिए पुलिस को भी फोन कर दिया है|

ये बात सुन प्रज्ञा बहुत डर जाती है| तब सरिता आंटी से कहा, जब तक मैं न आऊं तब तक प्राची को कुछ मत होने देना| फिर प्रज्ञा एक टेक्सी को पकड़ कर प्राची को बचाने जाती है और उधर से मिस्टर मेहरा अपनी बेटी रिया को हॉस्पिटल में देखने आते हैं| तब रात के अँधेरे और बीच रोड पर मिस्टर मेहरा की कार का प्रज्ञा की टेक्सी से एक्सीडेंट हो जाता है| लेकिन चोट किसी को नहीं आती है| तब मिस्टर मेहरा टेक्सी वाले से झगड़ने लगते है|

जब मिस्टर मेहरा ने टेक्सी ड्राइवर से पूछा कि तुम इतनी तेज क्यों चला रहे थे? तब टेक्सी ड्राइवर ने कहा, मैं तेज नहीं चला रहा था| मुझसे तेज चलने के लिए इस टेक्सी में बैठी मेडम ने कहा| फिर प्रज्ञा ने सोचा अगर मैं इनके झगडे में रही तो मुझे बहुत देर हो जाएगी| तब जल्दी से टेक्सी में से निकल कर दूसरी टेक्सी को आवाज दी| लेकिन प्रज्ञा की आवाज मिस्टर मेहरा सुन लेते हैं| जब मिस्टर मेहरा ने पीछे मुड़कर देखा तब तक प्रज्ञा दूसरी टेक्सी में बैठ कर चली जाती है|

फिर मिस्टर मेहरा ने सोचा कि प्रज्ञा यहाँ क्यों आएगी? और टेक्सी वाले को नुक्सान के रूपय देकर अपनी बेटी रिया को देखने चले जाते हैं|

इधर माया प्राची पर अपहरण का इल्जाम लगाती है| माया ने सब के सामने कहा, कि प्राची ने मुझे बेहोश कर गुंडों द्वारा अपहरण करवाया| तब प्राची ने कहा, मेंने एसा कुछ नहीं किया, वल्कि माया ने मुझे खिड़की से फेंकने की कोशिश की और माया एक खिड़की से टकराई फिर बेहोश हो गई लेकिन प्राची की एक भी बात दुष्यंत सिंह ने नहीं मानी| तब रणबीर ने कहा, इसमें प्राची की कोई गलती नहीं है| प्राची ने जो कुछ भी किया वो मेरे कहने पर किया|

रणबीर के इतना कहने पर दुष्यंत सिंह कुछ भी मानने को तैयार नहीं था| तब विक्रम और अभि के भेजे हुए गुंडों ने अपनी – अपनी गन निकाल कर दुष्यंत सिंह को डराना चाहा लेकिन माया के बड़े पापा नहीं डरे और अपने गुंडे चन्दन सिंह और उसके साथियों को बुलाकर विक्रम और अभि के गुंडों की कनपट्टी पर गन रखवादी और विक्रम से कहा, समदी जी अब तुम अपने गुंडों से कहो कि वे यहाँ से चले जाएँ| तब मजबूरन विक्रम को कहना पड़ता है और मिस्टर मेहरा के गुंडे चले जाते हैं|

फिर वहां पुलिस आ जाती है| तब रणबीर की माँ पल्लवी और उसकी दादी प्राची को दिलासा देती हैं| कि प्राची तुमने हमारे रणबीर को बचाने के लिए इतना बड़ा कदम उठाया है| इसलिए तू घबरा मत हम तुझे कुछ नहीं होने देंगे| तब दुष्यंत सिंह ने पुलिस से कहा, प्राची को अरेस्ट कर लो| तब प्राची ने बहुत कहा, कि मुझे अरेस्ट मत करो मेंने कुछ नहीं किया| तब रणबीर ने कहा, मैं खुद तुम्हारी बेटी से शादी नहीं करना चाहता हूँ| फिर भी तुम जबजस्ती माया की शादी मेरे साथ कर रहे हो|

लेकिन इन सब बातों से दुष्यंत पर कोई फर्क नहीं पड़ा| रणबीर ने कहा, मुझे तुमने माया से शादी करने के लिए धमकाया कि अगर रणबीर तुम मेरी माया से शादी नहीं करोगे तो मैं तुम्हे गोली मर दूंगा लेकिन दुष्यंत सिंह ने रणबीर की एक भी बात नहीं मानी| जब प्राची ने सबको माया के प्यार राहुल के बारे में बताना चाहा तब पुलिस प्राची को रोक देती है, और प्राची को अरेस्ट करने का आदेश देती है| जैसे ही पुलिस प्राची को अरेस्ट करती है, तभी वहां प्रज्ञा आ जाती है| और प्रज्ञा ने कहा, खबरदार जो मेरी बेटी प्राची से किसी ने हाथ लगाया तो|

Leave a Reply