Kumkum Bhagya 23 October 2020 Written Update: अभि ने रिया की हालत का जिम्मेदार प्राची को ठहराया!

0

Kumkum Bhagya 23 October 2020, Kumkum Bhagya 23 October 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 23 October 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 23 October 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 23 October 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने दखा कि कैसे रणबीर के माता-पिता ने रिया की हालत के लिए उसे दोषी ठहराया और उसे बताया कि वह प्राची को रिया की जिंदगी तबाह नहीं करने दे| रिया को होश आते ही अभि रिया से मिलता| रिया ने उसे बताया कि वह बहुत आहत थी और इस तरह एक बड़ा कदम उठाने से पहले उसके बारे में नहीं सोचा था| वह यहाँ भी कहती है कि प्राची ने रणबीर को उससे छीन लिया है| अभि रिया को सांत्वना देने कि कोशिश करता है लेकिन वह बेहोश हो जाती है|

आलिया, अभि से कहती है कि वह एक स्वार्थी पिता है और उसने कभी भी रिया के बारे में नहीं सोचा है कि वह क्या चाहती है|रणबीर की माँ उसे दिखाने के लिए रिया के पास ले आती है कि उसने उसके साथ क्या किया है| रिया की हालत देख कर रणबीर भावुक हो जाता है| आलिया रिया से मिलती है और उससे कहती है वह उसे वह देगी जो वह चाहती है, जैसा उसने कुछ किया है, जिससे अभि और रणबीर दोनों प्राची से हमेशा – हमेशा के लिए नफरत करेंगे|

Kumkum Bhagya 23 October 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब अभि प्राची के घर पहुँच जाता है और बहुत गुस्से से प्राची के घर की बेल बजाता है| लेकिन कोई दरवाजा नहीं खोलता है| फिर जैसे ही अभि दरवाजे से हाथ लगाता है और दरवाजा खुल जाता है| तब अभि घर में घुस कर प्राची और उसकी माँ को देखता है लेकिन उसे कोई दिखाई नहीं देता है| फिर अभि का धक्का लगने से प्राची और प्रज्ञा की तस्वीर मेज से गिर जाती है| जब अभि उस तस्वीर को उठता है| तभी प्राची आ जाती है|

जब प्राची ने पुछा कि सर रिया अब कैसी है? तब अभि प्राची से गुस्से में बोलता है कि रिया कैसी होगी जैसी तुम चाहती हो वो वेसी ही होगी| तब अभि ने प्राची से कहा कि मुझे तुझसे बात नहीं करनी तुम अपनी माँ को बुलाओ| तब प्राची ने कहा कि मेरी माँ अभी यहाँ नहीं है| ये सुन कर अभि प्राची से कहता है कि तुम बहुत झूंठ बोलती हो| फिर अभि प्राची की माँ को अनुराधा के नाम से पुकारता है| ये सुन कर प्राची चोंक जाती है| तब प्राची कहती है कि मेरी माँ का नाम अनुराधा नहीं है|

इधर प्रज्ञा और सरिता आंटी बाजार से आते समय ऑटो से रास्ते में उतर जातीं है| जब प्रज्ञा ने कहा कि सरिता जी आपने यहाँ ऑटो क्यों रुकवाया है| तब सरिता जी ने कहा कि मुझे कुछ काम है| फिर सरिता और प्रज्ञा चंदू की दुकान पर चाए पीने चलीं जाती है|

इधर जब प्राची ने कहा कि मेरी माँ का नाम अनुराधा नहीं है| ये सुन कर अभि बहुत गुस्से में आ जाता हैऔर कहता है कि तुम ने मुझ से फिर झूंठ बोला तुम्हारी माँ का नाम अनुराधा नहीं है| तब प्राची ने कहा कि हाँ मेरी माँ का नाम अनुराध नहीं है| तब फिर से प्राची ने पूछा कि रिया अब कैसी है सर? फिर अभि प्राची से कहता है कि तुमने मेरी बेटी से बदला लेने के लिए ये सब किया है और मेरी बेटी रिया ने तुम्हारी बजह से आत्महत्या करने की कोशिश की| ये सुन कर प्राची के पैरों तले जमीन खिसक जाती है|

फिर प्राची अभि से कहती है कि मैं रिया से बदला क्यों लेना चाहूंगी? तब अभि कहता है कि मैंने हमेशा तुझे अपनी बेटी से बढ़कर समझा लेकिन तूने रिया से बदला लेने के लिए सिर्फ मेरा इस्माल किया| सब लोग तुझे गलत बताते थे लेकिन मैं हर परस्थिति में तेरे साथ खड़ा रहा| उसने प्राची से कहा कि मैंने तेरे लिए क्या कुछ नहीं किया| ये सुन – सुन कर प्राची रोने लगती है| तब अभि कहता है कि अब ये झूंठे आंशू मुझे मत दिखाओ क्योंकि अब मुझ पर इन आंशूओं कोई असर नहीं होने वाला है|

इधर सरिता और प्रज्ञा चाए पीने दुकान पर बैठ जातीं हैं और उनके लिए चाए आ जाती है| तब प्रज्ञा हाथ में चाए का गिलास लेते ही अभि के साथ बिताए हुए पलों को याद करती है| तब सरिता जी ने कहा कि प्रज्ञा तू क्या सोच रही है| तब प्रज्ञा चुप रह जाती है| सरिता जी समझ जाती है कि उसने अपने पती को याद किया है| तब सरिता जी प्रज्ञा को समझाती है कि अब उन्हें याद करके कोई फायदा नहीं है क्योंकि उन्होंने तुम्हे भुला दिया है| ये सुन कर प्रज्ञा मना करती है कि वे हमें भूल नहीं सकते|

फिर सरिता जी ने कहा कि अगर वो तुम्हे भूलते नहीं तो तुमसे मिलने जरुर आते| ये सुन प्रज्ञा ने कहा कि वे कैसे आते क्योंकि उनको नहीं पता है कि हम कहाँ रह रहे हैं| फिर सरिता जी ने कहा, यदि एसा है तो वे तुम्हे ढूँढने की कोशिश तो करते| ये सुन कर प्रज्ञा सरिता जी मना कर देती है कि मैं उनके खिलाफ कुछ नहीं सुनना चाहती हूँ| तब सरिता आंटी ने कहा, चलो कोई बात नहीं अब हम प्राची की सगाई के बारे में बात करते हैं|

ये सुन कर प्रज्ञा सरिता जी से कहती है कि एसी ख़ुशी के मोके पर प्राची के पापा का उसके साथ होना बहुत जरुरी है| प्रज्ञा की बात सुनकर सरिता जी उसे प्राची के पापा को फोन करने को कहती है| तब प्रज्ञा प्राची के पापा को फोन करती है लेकिन प्रज्ञा का नंबर ब्लेक लिस्ट में होने के कारण प्रज्ञा की बात प्राची के पापा से नहीं हो पाती है| फिर प्रज्ञा और सरिता जी अपने घर चली जातीं हैं|

इधर अभि प्राची को गुस्से में बहुत कुछ सुनाता है| अभि ने प्राची से कहा कि मैंने आज तक अपनी जिंदगी में तुम्हारी जैसी घटिया लड़की नहीं देखी| अभि ने कहा कि मैं तेरी अच्छाई को देख कर तुम्हारी माँ का फेन हो गया था| लेकिन जब तेरी सच्छाई मेरे सामने आई, तब मुझे पता चला कि तुम और तुम्हारी माँ कितनी घटिया किसम हो| ये सुन – सुन कर प्राची बहुत रोती है और प्राची अभि को सांत्वना देती है| लेकिन अभि उसकी एक बात सुनने को तैयार नहीं होता है|

इधर जब रणबीर रिया को देख कर एकांत में आ जाता है| तब रणबीर अपनी माँ की बातों को याद करता है जो पल्लवी ने कुछ समय पहले रणबीर से की थी| रणबीर बहुत सोचने के बाद अपने आप से कहता है कि मैं प्राची को गलत नहीं मान सकता क्योंकि प्राची गलत नहीं है| रणबीर बहुत सोच में पड़ जाता है कि इतनी जल्दी मेरी फैमली के लोग प्राची को डिस लाइक कैसे करने लगे? उसने सोचा कि यहाँ एसा क्या हुआ?

इधर अभि प्राची से कहता है कि यदि तुम्हारे साथ तुम्हारे पिता होते, तो तुम्हारी इस हरक्कत को देख कर अपने आपको सर्म महसूस करते| उसने कहा कि अगर मैं ही तुम्हारा पिता होता तो एक चांटा कसके लगाता| तब अभि प्राची से बात करते हुए कहता है कि मेरी जिंदगी, मेरा सब कुछ मेरी बेटी रिया ही है और तुमने रिया के साथ बहुत गलत किया है| तब अभि ने कहा कि आलिया के पास एक वीडियो है जिसमें माया तुम्हे अपना दोस्त बताती है और जो माया की शादी में हुआ वो सब उसने तुम्हारा एक सोचा समझा प्लान बताया है|

इधर रणबीर के पास आर्यन आ जाता है और रणबीर आर्यन को देखते ही वो आर्यन के गले लग जाता है| तब रणबीर आर्यन को वो सब बताता है, जो उसके साथ हुआ| रणबीर ने कहा कि यार अब मेरे घर में सब लोग प्राची को ना पसंद कर रहे है| तब आर्यन रणबीर से कहता है कि तू जल्दी प्राची को फोन कर उसे यहाँ आने के लिए मना कर दे| अगर प्राची यहाँ आई तो बहुत बड़ी प्रोब्लम हो जाएगी| ये सुन कर रणबीर प्राची को फोन करता है लेकिन प्राची का मोबाइल साइलेंट हो की बजह से वो रिशीव नहीं कर पाती है|

तब आर्यन रणबीर से कहता है कि क्या तूने रिया की आत्महत्या के बारे में प्राची की माँ को बताया| तब रणबीर मना कर देता है कि मैंने उन्हें नहीं बताया| तब रणबीर प्रज्ञा को बताने के लिए फोन करता है|

इधर अभि प्राची की किसी भी बात का यकीन नहीं करता है| जब उसने पूछा कि तुम और माया दोस्त नहीं थे, तब प्राची हाँ बोल देती है क्योंकि वे कॉलेज के ज़माने में दोस्त थे| प्राची की हाँ सुनने के बाद अभि का पूरा भरोषा प्राची से उठ जाता है| तब अभि प्राची से कहता है कि मैं अभी जो तुमसे एक महत्वपूर्ण बात कह रहा हूँ, वो तुम याद रखना कि आज के बाद तुम मेरी बेटी रिया और रणबीर के आस पास भी दिखाई मत देना| ये सुन कर प्राची के होश उड़ जाते हैं और अभि वहां से चला जाता है|

Leave a Reply