Kumkum Bhagya 27 October 2020 Written Update: प्रज्ञा और अभि को आमने-सामने देख आलिया के उड़े होश!

0

Kumkum Bhagya 27 October 2020, Kumkum Bhagya 27 October 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 27 October 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 27 October 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 27 October 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे रणबीर और उसकी दादी पल्लवी को घर लाते हैं और बिताली के कहने पर आलिया प्रज्ञा को रोकने चली जाती है| प्रज्ञा एक टेक्सी में बैठ कर अभि से मिलने जाती है| इसी बीच, आलिया प्रज्ञा का एक्सीडेंट कर देती है| प्राची अपने दिल से सोच कर रिया और उसके डेड को अच्छा बताती है| रणबीर की दादी उससे मिलने आती है और पल्लवी प्राची का नाम लेने पर रणबीर को अपना मरा मुहँ दिखाने की बात करती है|

Kumkum Bhagya 27 October 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब आलिया प्रज्ञा का एक्सीडेंट कर देती है| तब वहां के लोगों ने उस औरत का हाथ पकड़ा, जो उस टेक्सी में बैठी हुई थी और एक्सीडेंट की बजह से बेहोश हो गई थी| जब लोगों ने उसकी कलाई पकड़ कर, उसकी नाडी चेक कर बताया कि ये औरत जिन्दा है| लेकिन अभी ये चोट के कारण बेहोश हो गई है| जब ये बात आलिया सुनी तो वो चौक जाती है और वहां से निकलने की कोशिश करती है| तब वहां के लोग आलिया को रोक लेते हैं|

फिर आलिया उन लोगों से कहती है कि गलती मेरी नहीं, गलती टेक्सी ड्राइवर की है लेकिन लोग नहीं मानते और आलिया से उस बेहोश औरत को अस्पताल ले जाने को कहते हैं लेकिन आलिया उसे अस्पताल ले जाने से मना कर देती है| तब वहां के लोग पुलिस को बुलाने धमकी देते हैं| तब आलिया सोचती है कि अगर पुलिस आई तो बहुत प्रोब्लम हो जाएगी| अभी यहाँ से निकलना बहुत जरुरी है| फिर आलिया उस औरत को अस्पताल ले जाने को तैयार हो जाती है|

तब लोग उस औरत को आलिया की कार में रख देते हैं| जब आलिया उस औरत को अस्पताल ले जाती है, तब आलिया उस औरत का चहरा अपनी कार में लगे शीशे में देख लेती है| आलिया ने देख कि जो औरत एक्सीडेंट से बेहोश हुई थी वो औरत प्रज्ञा नहीं थी वल्कि वो कोई ओर थी| तब आलिया टेक्सी ड्राइवर और उस बेहोश पड़ी औरत को रास्ते में उतार देती है और उस टेक्सी ड्राइवर को पैसे देकर औरत को अस्पताल ले जाने को कहती है| फिर आलिया अपनी फेक्ट्री की तरफ चली जाती है|

इधर प्रज्ञा फेक्ट्री पहुँच जाती है और सिक्यूरटी गार्ड से पूछती है कि मिस्टर मेहरा फेक्ट्री में है| तब सिक्यूरटी गार्ड बता देता है कि हाँ मेहरा सर अभी फेक्ट्री में ही हैं| तब प्रज्ञा मिस्टर मेहरा से मिलने फेक्ट्री में अन्दर चली जाती है|

इधर आलिया सोचती है कि प्रज्ञा गई तो कहाँ गई| ये सोच – सोच कर आलिया बहुत परेशान होती है| तब आलिया ने सोचा कि में भाई से कहूँ कि रिया की हालत बहुत ख़राब है, तो भाई सुनते ही रिया से मिलने चले जाएँगे और प्रज्ञा भाई से नहीं मिल पाएगी| तब आलिया अभि के लिए फोन करती है लेकिन अभि आलिया का फोन नहीं उठाते हैं| फिर आलिया फेक्ट्री के लाइन-लाइन नंबर पर फोन करती है| उस फोन को कोई फेक्ट्री में काम करने वाला मनीष रिशीव कर लेता है|

तब आलिया उस मनीष से पूछती है कि कोई लेडीज फेक्ट्री में आई है? मनीष मना कर देता है कि अभी फेक्ट्री में कोई लेडीज नहीं आई है| ये सुनकर आलिया ने मनीष से कहा कि कोई लेडीज फेक्ट्री में आए, तो उसे घुसने मत देना और उसे भाई से मिलने मत देना और आलिया मनीष को ‘लाइट का मेन स्विच ऑफ़, करने को भी कह देती है| फिर प्रज्ञा को फेक्ट्री में अन्दर जाते हुए मनीष देख लेता है और प्रज्ञा को रोकने की कोशिश करता है| लेकिन वो प्रज्ञा को रोक नहीं पता है|

फिर मनीष फेक्ट्री के लाइट का मेन स्विच ऑफ़ करने चला जाता है| जब प्रज्ञा मिस्टर मेहरा की टीशर्ट को देख लेती है और उसके पास जाती है तभी प्रज्ञा कि साड़ी का पल्लू किसी चीज में फस जाता है और उसी वक्त मनीष लाइट का मेन स्विच ऑफ़ कर देता है और फेक्ट्री में अँधेरा हो जाता है| तब प्रज्ञा मिस्टर मेहरा को आवाज देती है कि तुम रिया के पापा मिस्टर मेहरा हो, मुझे तुमसे बात करनी है इसलिए तुम यहाँ कहीं मत जाना| उसकी आवाज मिस्टर मेहरा पहचान लेतें हैं कि ये प्रज्ञा है|

फिर प्रज्ञा अभि से कहती है कि रिया आपकी बेटी है और प्राची मेरी बेटी है| ये सुनकर अभि बहुत खुश होता है कि प्राची मेरी बेटी है| तब प्रज्ञा अभि से कहती है कि मेरी बेटी प्राची से इतना भला बुरा कहने का आपको कोई हक़ है| मेरी बेटी रिया का क्यों बुरा कहेगी? वो तो किसी का बुरा नहीं चाहेगी क्योंकि वो एसी ही है| ये सुन कर मिस्टर मेहरा प्रज्ञा और प्राची कि बीती हुई बातों को याद करते हैं|

तब प्रज्ञा ने कहा कि मेरी बेटी प्राची ने रिया के साथ कोई बुरा नहीं किया है, बल्कि तुम्हारी बेटी रिया ने मेरी बेटी प्राची की जान लेने की कोशिश की| ये सुनकर अभि को अपने आप पर बहुत सर्म आती है कि मैंने अपनी बेटी से ही भला बुरा कहा|

इधर आलिया फेक्ट्री में आ जाती है और मनीष से कहती है कि जो मैंने कहा था, वो काम कर दिया| तब मनीष कहता है कि मैंने लाइट का मेन स्विच ऑफ़ तो कर दिया लेकिन मेडम मैं उस लेडीज को नहीं रोक पाया| ये सुन कर आलिया मनीष से कहती है कि जब तक मैं न कहूँ, तब तक फेक्ट्री की लाइट का मेन स्विच ऑन नहीं होना चाहिए|

इधर प्रज्ञा अभि से कहती है कि तुम्हें कोई हक़ नहीं है, प्राची के पापा के बारे कहने का| तब प्रज्ञा अभि को हर एक घटना बताती है जो रिया ने प्राची के साथ की थी| उसने कहा कि प्राची रिया और रणबीर के बीच में नहीं आई वल्कि रिया ने मेरी बेटी की जान लेने की कोशिश की| ये सुन कर अभि अपने आपको रोक नहीं पाता और प्रज्ञा से मिलने आगे बढ़ता है लेकिन प्रज्ञा मना कर देती है कि तुम आगे मत बढ़ना| प्रज्ञा अभि से कहती है कि अच्छा हुआ कि तुम प्राची के पापा नहीं वर्ना मुझे तुम पर सर्म आती|

इधर कोई लेडीज सिक्यूरटी गार्ड फेक्ट्री के लाइट का मेन स्विच ऑन कर देती है| फेक्ट्री में प्रकाश होते ही प्रज्ञा अभि को देख कर शौक रह जाती है| फिर अभि और प्रज्ञा एक दूसरे को देख कर बहुत खुश होते है और अपनी – अपनी गलती मानते है| कोई किसी को गलत नहीं ठहराता है| जब आलिया देखती है कि प्रज्ञा और अभि एक दूसरे से मिल चुके है, तो उसके होश उड़ जाते है| फिर आलिया प्रज्ञा और अभि को अलग करने की योजना बना लेती है|

इधर रणबीर अपनी माँ की बातों को याद करता है, जो पल्लवी ने रणबीर को प्राची से दूर रहने को कहा था| ये सोच-सोच कर रणबीर बहुत परेशान हो जाता है|

Leave a Reply