Kumkum Bhagya 28 August 2020 Written Update – प्रज्ञा और प्राची की माँ को लगा गहरा शॉक !

0

Kumkum Bhagya 28 August 2020, Kumkum Bhagya 28 August 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 28 August 2020 Episode, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 28 August 2020 Written Update –

नाटक की शुरुआत में रिया अपने कमरे में जाकर रो रही थी, तभी आलिया उसे शांत करने की कोशिश करती है | तभी वंहा रिया के पास रिया के डेड मिस्टर मेहरा आए, और रिया को पूछा की तुम क्यों रो रहे हो ? तो रिया ने कहा, डेड मुझे आपसे बात नहीं करनी | आप जाओ यहाँ से, तो मिस्टर मेहरा ने पूछा की बेटा बताओ तो सही तुम रो क्यों रही हो ? तब रिया ने कहा, की डेड किसी से में आपके सामने ये कहूँ की तुम मेरे डेड नहीं वल्कि डेड जेसे हो तो आपको केसा लगेगा | तब मिस्टर मेहरा ने कहा, ओ तुम इसके लिए रो रही हो | तब मिस्टर मेहरा ने रिया को समझाया की बेटी एसी बात नहीं है | जितना प्यार में प्राची को करता हूँ उतना ही प्यार में तुम से करता हूँ | रिया जब तुम अपने डेड की बातों का बुरा मान जाते हो |

Kumkum Bhagya 28 August 2020 Full Episode Story

तब मिस्टर मेहरा ने कहा, रिया अब तुम ये बताओ कि प्राची को लोकप से बाहर केसे निकाला जाए ? इतने में रिया भड़क गई और बोली, डेड प्राची को लोकप से बाहर क्यों निकालना चाहते हो ? वो तो एक चोर है | तब मिस्टर मेहरा ने कहा की बेटी रिया एसी बात नहीं है | रिया ने कहा की डेड में कुछ नहीं सुनना चाहती हूँ | जो चोर है तो वो चोर है | फिर डेड अब तो ये प्रूफ भी हो गया है कि प्राची ने ही चोरी की है | फिर भी तुम उसकी तरपदारी कर रहे हो | फिर मिस्टर मेहरा ने कहा, कि चलो छोड़ो लेकिन इससे एक बात तो प्रूफ हो गई कि में तुम से प्राची से ज्यादा प्यार करता हूँ | रिया ने कहा, कि वो केसे तब मिस्टर मेहरा ने कहा, की जब प्राची जेल में गई तो में प्राची के पीछे गया | रिया ने कहा नहीं लेकिन में तुम्हारे पीछे तुम्हारे कमरे में आया | तो इससे ये सावित होता है कि में तुम से प्राची से ज्यादा प्यार करता हूँ | इतना कह के मिस्टर मेहरा वहां से चले गए |

इधर विक्रम अपने बेटे रणवीर को समझा रहे थे | विक्रम ने रणवीर से कहा कि रणवीर तुम अपनी माँ के बातों का बुरा मत माना करो | मैं खुद तुम्हारी माँ का कहना नहीं मानता हूँ | तभी तो में आज इतना खुश हूँ | रणवीर ने कहा डेड क्या बात कर रहे हो | विक्रम ने कहा की हाँ ये सच है | विक्रम ने ये भी कहा की रणवीर तुम प्राची को पसंद करते हो, लेकिन प्राची को तुम्हारी माँ पसंद नहीं करती है | तब रणवीर ने कहा कि डेड में क्या करूँ तो विक्रम ने कहा, कि तुम चिल्ड करो | रणवीर ने कहा डेड प्राची वहां जेल में है और तुम मुझे चिल्ड करने को कह रहे हो | विक्रम ने कहा और नहीं तो क्या तुम्हारी माँ का दिमाग गरम है, तो तुम यहाँ चिल्ड करो | रणवीर ने कहा कि डेड में प्राची से केसे मिलूं ? तो विक्रम ने कहा कि रणवीर तुम यहाँ से भाग कर जाओ और प्राची से मिललो  | रणवीर ने कहा डेड फिर यहाँ माँ गुस्सा करेगी | तो विक्रम ने कहा की तुम्हारी माँ को में संभाल लूँगा | जा बेटे जा प्राची को मिलकर आ तो रणवीर प्राची से मिलने के लिए जेल में चलने लगता है, तभी विक्रम ने कहा बेटे इस रस्ते से जाओगे तो जब तक में जिन्दा हूँ तब तक तो तुम्हारी माँ को में संभाल लूँगा, लेकिन में परलोक सिधार गया तो तुम्हारी माँ को कौन संभालेगा |

कुमकुम भाग्य में आगे – रणवीर ने कहा, कि तुम तो कह रहे थे की में संभाल लूँगा | तब विक्रम ने कहा की, तू अपनी माँ के सामने से होकर जाएगा, तो तुम्हारी माँ क्या आरती उतारेंगी | रणवीर ने कहा तो डेड, विक्रम ने कहा, तू खिड़की कूद कर जा और विक्रम ने ये भी कहा की जब में तुम्हारे जेसा था तब में खिड़की कूद कर चला जाता था | रणवीर ने कहा, डेड तुम बहुत महान हो, और विक्रम के गले से लिपट गया | और रणवीर खिड़की कूद कर प्राची से मिलने जेल चला जाता है | इधर आर्यन ने विक्रम से पूछा की अंकल क्या तुम पल्लवी आंटी से डरते हो | तो विक्रम ने कहा कि, बेताल से नहीं डरा तो तुम्हारी पल्लवी आंटी से में क्यों डरूंगा | इतने में पल्लवी ने अपने बेटे रणवीर को पुकारा तो आर्यन ने कहा की अंकल ये आ गया बेताल अब क्यों दर रहे हो | विक्रम ने कहा, चल चुप कर फिर विक्रम ने आर्यन को बेड पर लिटा कर आर्यन के ऊपर कम्बल डाल दिया | इतने में रणवीर की माँ पल्लवी रणवीर के कमरे में आई और विक्रम से पूछा की रणवीर कहाँ है ? विक्रम ने कहा, रणवीर तुम से नाराज है, पल्लवी ने कहा क्या मुझ से विक्रम ने कहा हाँ, तुम से रणवीर बात भी नहीं करेगा | पल्लवी ने कहा देखती हूँ, रणवीर मुझ से बात केसे नहीं करता है | विक्रम ने कहा रुक्जाओ वो अभी नाराज है, थोड़ी देर बाद मैं उसे समझा दूंगा, उसके बाद बात कर लेना |

पल्लवी ने कहा नहीं मुझे अभी उससे बात करनी है |विक्रम ने कहा पल्लवी में तुम्हारे हाथ जोड़ रहा हूँ, थोडा समय दे दो उसे, तो पल्लवी मान जाती है | और वहां से चली जाती है | आर्यन उठ कर अपने विक्रम अंकल को रुमाल देता है और कहता है, अंकल आपकी तो बेताल के डर पूरे के पूरे भीग गय हो | इस रुमाल से पसीना साफ कर लो | विक्रम ने कहा हम बेताल से डरे नहीं, ये तो हमारा समझाने का तरीका है |

इसके बाद प्राची को जेल में लाया जाता है | प्राची और दोनों चोर को एक जगह पर बिठाया जाता है | उसके बाद प्राची रोती है, और उन चोरो को भैया बोलती है ,भैया मैंने आपका क्या बिगाड़ा था जो तुमने मुझे यहाँ फसा दिया | भैया तुम मुझे सच बात बता दो भैया, ये तुमने किसके कहने से किया है ? प्लीज भैया बताओ मुझे, इतने में उन दोनों चोर में से एक चोर को दया आ जाती है | और दूसरे चोर को पूछता है, यार ये भाई बोल रही है, तो उसने कहा, क्या इससे राखी बंधवानी है, चल चुप बेठ, फिर एक चोर उस केविन से बाहर आया | और एक पुलिस वाले से कहा, साहब क्या में एक कोल कर सकता हूँ ? उसने कहा कर ले, तो उस चोर ने अपने लीडर संजू के पास फोन लगाया | और संजू ने कहा, अरे कहाँ मर गए हो, नास पिटों में कब से तुम्हारा फोन ट्राई कर रहा हूँ, तुम्हारा फोन क्यों नहीं लग रहा है | क्या तुमने अपने मोबाइल बेच कर शराब पीली, बेवकूफों चल बता कहाँ हो तुम ? तब चोर ने कहा कि, हम दोनों लोकप में है | संजू ने कहा की वहां केसे पहुंचे, तो उस चोर ने बताया, की मिस्टर मेहरा , विक्रम ,रणवीर , आर्यन ने पकड़ लिया | और वहां हमसे पूछताछ की तो हमें येइल्जम प्राची पर डाल दिया | तब संजू ने कहा, अरे बेवकूफों तुमने प्राची को क्यों फसाया? तो चोर ने बताया, की एसा करने के लिए हमसे आलिया मेडम ने कहा और इस कम के लिए हमें दो लाख रूपए देने का वादा किया था | तो संजू ने कहा कोई बात नहीं में तुम दोनों को निकालने का कोई रास्ता निकालता हूँ | तब तक तुम अपना मुह बंद रखना |

फिर संजू ने रिया को कोल किया, तो रिया संजू की कॉल रिसीव नहीं कर रही थी | आलिया ने कहा कॉल रिसीव करो वो कुछ कहना चाहता है | रिया ने कहा में संजू से बात नहीं करना चाहती | तो आलिया ने कहा ठीक है, मैं ही बात कर लेती हूँ  | तब संजू की कॉल आलिया ने रिसीव की, तो संजू ने कहा, रिया ये क्या किया जो मेरे दोनों चंगु ,मंगू जेल भेज दिए | तो आलिया ने कहा, में रिया नहीं आलिया बोल रही हूँ, तो संजू ने कहा, मुझे तुमसे बात नहीं करनी | मुझे रिया से बात करनी है | तो आलिया ने कहा रिया यंही है, तो संजू ने कहा रिया मुझे तुम्हारी बुजी आलिया पर एक सुई के नोक के बराबर भरोसा नहीं है | आलिया ने कहा क्या बकते हो ? तुम तो संजू ने कहा, और नहीं तो क्या जो तुमने मुझ से वादा किया था उसमे से एक वादा भी पूरा किया है ! और मेरी प्राची पर इल्जाम लगाकर उसे जेल में भिजबादिया | एसा क्यों ? बोलो तो आलिया ने कहा देखो तुम मुझ से बकबास मत करो | तो संजू ने कहा ठीक है, अब तुम मेरे दोनों चंगु  मंगू को बाहर निकालने के लिए एक वकील करो | आलिया ने कहा, ये में नहीं कर सकती हूँ | संजू ने कहा, ये याद रखना अगर मेरे चंगु मंगू बाहर नहीं निकले, तो वे पुलिस वालों को सच बता देंगे | और तुम हम सब फस जाएँगे | तो आलिया ने कहा ठीक है में जल्द से जल्द एक वकील कर के उन दोनों को बाहर निकलवा दूंगी | इतना कह कर आलिया ने फोन कट कर दिया |

इधर प्राची की बहन शाएरा प्राची से मिलने जेल में आई | प्राची से रोते हुए कहा, दीदी बारिस हो रही थी, और मुझे कोई ऑटो नहीं मिला ,  इस लिए में लेट हो गई  | प्राची ने कहा, कोई बात नहीं | फिर शाएरा की नजर उन दोनों चोरों पर पड़ी, तो वो उन दोनों चोरों के ऊपर भड़कने लगी की, तुम्हारी बजह से आज मेरी दीदी यहाँ है | और शाएरा उन दोनों चोरों को मारने पीटने लगी | प्राची शायेरा को रोक रही थी, की शायेरा शांत हो जाओ वर्ना बात बढ़ जाएगी | लेकिन शाएरा नहीं मानी उन दोनों को पीटने लगी | तो वे दोनों चोर चिल्ला रहे थे, की इंस्पेक्टर इस लड़की को बाहर निकालो | वरना ये हमें मार देगी | तब इन्स्पेटर आया और शाएरा पर चिल्लाया और बोला मेडम, ये पुलिस थाना है आपका घर नहीं | तो शाएरा शांत हो गई | और प्राची ने शाएरा से कहा कि शाएरा तुम जाओ और माँ को बता दो की प्राची जेल में है | मेरी माँ मुझे छुड़ा लेगी | इतना सुनकर शाएरा अपने घर वापिस आई | तो उसकी माँ और सरिता आंटी ने पूछा की, प्राची कहाँ है ? और तू रो क्यों रही है ? तब शाएरा ने बताया की, माँ प्राची माँ ने कहा बोलो शाएरा ने कहा माँ प्राची दीदी लोकप में बंद है | ये खबर सुनकर प्रज्ञा और सरिता आंटी को बहुत जोर का झटका लगा |

Leave a Reply