Kumkum Bhagya 28 October 2020 Written Update: प्रज्ञा और अभि को अलग करने की आलिया ने बनाई योजना!

0

Kumkum Bhagya 28 October 2020, Kumkum Bhagya 28 October 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 28 October 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 28 October 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 28 October 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे आलिया ने देखा कि जो औरत उसके एक्सीडेंट करने से बेहोश हुई, वो औरत प्रज्ञा नहीं है| प्रज्ञा फेक्ट्री में पहुँच जाती है और अभि से मिलती है और मनीष फेक्ट्री में लाइट का मेन स्विच ऑफ़ कर देता है| प्रज्ञा अभि को वो सब सुनाती है, जो अभि ने प्राची से कहा था| उसने कहा कि अगर तुम प्राची के पापा होते तो मुझे आप पर सर्म आती| इसी बीच, आलिया फेक्ट्री में आ जाती है|

फिर आलिया प्रज्ञा और अभि को एक-दुसरे के सामने खड़ा देख, उसके होश उड़ जाते हैं| फिर आलिया उन दोनों को अलग करने के बारे में सोचती है| रणबीर अपनी माँ की बातों को याद कर उदास होता है|

Kumkum Bhagya 28 October 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब रणबीर अपनी माँ और प्राची के बारे में सोचता है| तब वहां आर्यन आ जाता है और रणबीर आर्यन के गले से लिपट कर बहुत रोता है| तब आर्यन उसे सांत्वना देता है और अपने प्यार को जीतने के लिए सब से लड़ने को कहता है| फिर रणबीर ने कहा कि मैं लडूं तो कैसे लडूं और किस-से लडूं? ये सुनकर आर्यन ने कहा कि जैसे तू प्राची के लिए कॉलेज में लड़ा करता था, वैसे तू अपने प्यार के लिए लड़|

ये सुनकर रणबीर आर्यन से कहता है कि यार वहां सब लोग अन्जाने थे, सब दुश्मन थे लेकिन यहाँ मेरी माँ, मेरे पापा ये सब मेरे अपने हैं| मैं इनसे नहीं लड़ सकता| मेरी माँ ने मुझे 9 महीने पेट में रख कर जन्म दिया, मुझे पाला और इतना बड़ा किया, मैं अपनों से नहीं लड़ सकता| रणबीर आर्यन से कहता है कि न तो मैं अपनों को खो सकता हूँ और नहीं अपने प्यार को, मैं दोनों में से किसी को नहीं खो सकता| तब आर्यन रणबीर को प्राची से फोन करने को कहता है|

उसने कहा कि शायद प्राची से बात कर के कोई शोलूशन निकल आये| ये सुन कर रणबीर प्राची को फोन करता है| प्राची मिस्टर मेहरा की बातों को और रणबीर के प्रोपजल को याद करती है| तभी रणबीर का फोन आ जाता है| प्राची कॉल को रिशीव कर रणबीर से बात करती है| प्राची रणबीर से कहती है कि रिया और तुम्हारे बीच में, मैं आई, इसलिए रिया ने आत्महत्या करने की कोशिश की| ये सब मेरी बजह से हुआ| तब रणबीर मना करता है कि प्राची इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं है|

फिर प्राची रणबीर से कहती है कि मुझे पता होता कि रिया तुमसे प्यार करती है तो मैं तुम दोनों के बीच में कभी नहीं आती| तब रणबीर प्राची को सांत्वना देते हुए कहता है कि तुमसे ये किसने कहा कि रिया मुझे से प्यार करती है| तब प्राची बता देती है कि ये बात मुझे महारा सर ने बताई है और प्राची ने कहा कि मेहरा सर ने मुझे वोर्निनिग भी दी है कि मैं रिया और रणबीर के बीच में न आऊँ| प्राची ये भी कहती है कि मैंने मेहरा सर को अपने पापा की तरह माना लेकिन उन्होंने मुझे नहीं समझा ये मुझे बहुत बुरा लगा|

प्राची रणबीर से कहती है कि मेहरा सर मुझे नफरत करते है, तो तुम्हारी फैमिली भी मुझ से नफरत करने लगी होगी| तब रणबीर कहता है कि हाँ मेरे पापा, माँ और दादी भी मेरे खिलाफ हो गय है| तब प्राची रणबीर से कहती है कि जब भगवान सारे रास्ते बंद करदे, तो कुछ गलत करने से तो अच्छा है कि हम दो कदम पीछे हठ जाएँ| तब प्राची ने रणबीर से कहा कि अब तुम्हे अपने मोम- डेड की बात माननी होगी| जैसा वो कहते है, वैसा तुम्हे करना चाहिए| तब रणबीर मना कर देता है|

रणबीर ने कहा कि मैं अपने प्यार को हारने नहीं दूंगा| मेरे प्यार को छिनने का किसी को कोई हक़ नहीं है और ये हक़ मैं तुम्हे भी नहीं दूंगा| रणबीर कहता है कि मेरे प्यार को कोई नहीं छीन सकता और फिर फोन काट देता है| तब सरिता आंटी प्राची को दूध देने आ जाती है| तब प्राची सरिता आंटी से कहती है कि मैंने बहुत बड़ी गलती की है, माँ को बताकर कि यहाँ मेहरा सर आय थे| तब सरिता आंटी ने कहा कि कोई गलती नहीं की और प्रज्ञा जो कर रही है वो सही है|

इधर प्रज्ञा और अभि आपस में बहुत बातें करते हैं| तभी प्रज्ञा ने कहा कि रिया ने प्राची को मारने की कोशिश की थी| ये सुन कर अभि मना कर देता है कि मेरी बेटी एसा नहीं कर सकती| तब प्रज्ञा अभि को बताती है कि जिस ड्राइवर को रिया ने प्राची को मारने की सुपारी दी थी| उसने खुद काबुल किया था और मेरे पास सबूत भी हैं| तब अभि कहता है कि किसी रिया को फ़साने के लिए उसका नाम ले लिया होगा क्योंकि इस बिजनिश में मेरे बहुत दुश्मन हैं|

प्रज्ञा ने कहा कि एसा नहीं है लेकिन अभि प्रज्ञा की बातों का यकीन नहीं करता है| अभि बार – बार कहता है कि माना मेरी बेटी रिया थोड़ी जिद्दी है लेकिन वो किसी का खून करने के बारे में नहीं सोच सकती|

इस बात पर अभि थोडी बहश करने लगता है| तभी प्रज्ञा ने कहा कि कोई बात नहीं अब हम इस बात पर कभी बहश नहीं करेंगे|तब आलिया वहीँ छुपकर अभि और प्रज्ञा की सारीं सुन लेती है और आलिया इसी बता का फायदा उठाने की कोशिश करती है| आलिया प्रज्ञा पर झूंठा आरोप लगाती है कि प्रज्ञा को पता था रिया मिस्टर अभिषेक प्रेम मेहरा की बेटी है लेकिन उसने जानते हुए भी अपनी बेटी से मिलने की कोशिश नहीं की| प्रज्ञा बार – बार मना करती है कि मुझे नहीं पता था कि मिस्टर मेहरा कौन है? उसने ये भी कहा कि मुझे नहीं पता था कि रिया मेरी बेटी है|

लेकिन आलिया प्रज्ञा की एक नहीं मानती है| आलिया ने प्रज्ञा से कहा कि रिया को एक माँ का दर्जा मैंने दिया| आलिया प्रज्ञा से कहती है कि जब तुम्हे नहीं पता था कि रिया तुम्हारी बेटी है, तो एक दिन तुम्हरा एक्सीडेंट रिया ने किया था, तब तुमने  उसे पुलिस के हवाले क्यों नहीं किया| ये सुन कर प्रज्ञा के कहा कि उस दिन मैंने उसे पुलिस के हवाले इसलिए नहीं किया कि कही उस बच्ची की लाइफ ख़राब न हो जाए| प्रज्ञा ने अपनी सफाई में बहुत कुछ कहा लेकिन आलिया उसकी एक बात नहीं मानती है|

आलिया ने कहा कि तुम्हे पता था कि रिया तुम्हारी बेटी है इसलिए तुमने प्राची को उससे बदला लेने के लिए भेज दिया| प्रज्ञा आलिया से कहती है कि तुम ये क्या कह रही हो लेकिन आलिया उसकी एक नहीं सुनती है| प्रज्ञा और अभि को अलग करने की पूरी – पूरी कोशिश करती है| 

Leave a Reply