Kumkum Bhagya 29 December 2020 Written Update: रणबीर और प्राची के बीच आईं मुश्किलें!

0

Kumkum Bhagya 29 December 2020, Kumkum Bhagya 29 December 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 29 December 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 29 December 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 29 December 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे शाहाना उसकी माँ की कसम देकर प्राची को शांत करती है और और रणबीर से मिलने चली जाती है| प्रज्ञा को उदास देख कर अभि उसका हाल पूछता है| अभि और प्रज्ञा का डांस देख कर सब लोग तालियाँ बजाते हैं| आलिया अभि को मीरा के साथ इंगेजमेंट को बुलाती है| इस बीच रणबीर को होश आ जाता है और शाहाना उस पर बहुत भड़कती है| मीरा को अंगूठी पहनाते समय उसके हाथ से अंगूठी छूट कर प्रज्ञा के पैरो के पास गिरती है|

Kumkum Bhagya 29 December 2020 Full Episode

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में जब प्रज्ञा अपना हाथ आगे कर देती है और अभि उसे अंगूठी पहनाता है और गोगा का एक साथी मीरा को जूस में नशे की दवा मिला कर उसे पिला देता है| तब मीरा को चक्कर आने लगते हैं और आलिया, अभि और सभी लोग मीरा को देखने के लिए उसके पास आते हैं| तब गोगा कहता है कि यहाँ मेहमानों में कोई डोक्टर है? वहां दो डॉक्टर निकलते हैं| एक विक्रम का फैमिली डॉक्टर और दूसरा चौर शेलेश|

फिर शेलेश उसे कमरे में लिटाने को कहता है और सब लोग मीरा को कमरे में ले जाते हैं|

इधर रणबीर प्राची को ढूंढता है और उसे आवाज लगाता है| तब प्राची अपने आंशू पोंछते हुए बहुत गुस्से में निकलती है और रणबीर उसे देख कर उसके पास आता है| तब प्राची उससे कहती है कि मिस्टर रणबीर कोली तुम मुझसे दूर ही रहो| प्राची उसे अपने से दूर रहने को कहती है और उससे वह मुहँ फेर कर बहुत रोती है लेकिन रणबीर उसे शांत करने की कोशिश करता है| प्राची उससे दूर भागने की कोशिश करती है और रणबीर उसे उसके नाम से पुकारता है| तब प्राची कहती है कि रणबीर मेरा नाम भी तुम्हारे मुहँ से अच्छा नहीं लगता है| फिर प्राची वहां से भाग जाती है और एक अलमारी में छुपजाती जाती है|

इधर शेलेश जो डॉक्टर जो चौर के भेष में था, वह गोगा से अपनी कार से एक दवाई का बॉक्स लेकर आने को कहता है और गोगा उस बॉक्स को ले आता है और डॉक्टर को दे देता है| फिर वो डॉक्टर उस कमरे से सभी को जाने के लिए कह देता है| उसने कहा कि ये अभी बिलकुल ठीक है लेकिन थोड़ी थकान की बजह से चक्कर आ गए हैं, वे मेरे इंजेक्शन लगाने से बिलकुल ठीक हो जाएंगे| फिर सब उस कमरे से बाहर जाने लगते हैं लेकिन रिया जिद करती है कि वह अपनी होने वाली माँ के पास रहेगी|

फिर अभि के कहने पर रिया और सब लोगों को बाहर जाना पड़ता है और पल्लवी अपने डॉक्टर से कहती है कि तुम मेरी सासू माँ का चैकप करलो| फिर दीदा के मना करने के बावजूद पल्लवी उसे जबजस्ती चैकप के लिए ले जाती है|

इधर रणबीर प्राची को देखते – देखते उसके पीछे आता है और उसे पता चल जाता है कि वह इस अलमारी के अन्दर छुपी हैं| तब रणबीर प्राची से कहता है कि प्राची मैं तुम्हारा दिल नहीं दुखाना चाहता था| मैं तो सिर्फ इतना चाहता था कि तुम मुझसे नफ़रत कर सको क्योंकि मैं जानता हूँ कि भरोषा टूट जाए तो कोई बात नहीं लेकिन दिल टूट जाए तो जीना मुस्किल हो जाता है|

रणबीर कहता है कि तुम बहुत अच्छी लड़की हो और मैंने जो वक्त तुम्हारे साथ गुजरा है, वह मेरा सबसे खूब सूरत पल है क्योंकि तुम बहुत अच्छी लड़की हो| फिर रणबीर उसे सच्चाई बताता हैं कि उसे नफरत करने पर क्यों मजबूर करना चाहता था|

फिर रणबीर कहता है कि तुम ही कहती थी कि हमें इस दुनियां में जो लेकर आए हैं उन्हें कभी दुखी नहीं करना चाहिए और हमें अपने माता – पिता की बात माननी चाहिए और मेरी माँ नहीं चाहती है कि मेरी शादी तुम से हो| फिर वह उसे सब सच बताता हैं| जिससे प्राची शांत हो जाती है लेकिन रिया की शहेलियों ने जो उससे कहा था उससे प्राची बहुत दुखी होती है क्योंकि उन्होंने कहा था कि रणबीर फिर से तुम्हे इम्प्रेश करे तो समझ लेना कि वह दोबारा तुमसे खेलना चाहता है|

इधर गोगा और वो शेलेश मीरा से कहता है कि इस हार को उतार कर अलग रख दो ताकि तुम्हे अच्छा फील हो| जब मीरा हार उतारती तब उसे यकीन हो जाता है कि ये लोग ज्वेलरी स्टोर वाले चौर हैं| फिर मीरा मोका देख कर भाग जाती और उसके पीछे वे  चौर भागते हैं|

इधर प्रज्ञा अभि को बताती है कि वो डॉक्टर ज्वेलरी स्टोर वाला चौरर हैं| तब अभि उससे कहता है कि तुम ये कैसे कह सकती हो? तब प्रज्ञा बताती है कि मैंने वहां ज्वेलरी स्टोर में एक चौर के हाथ पर एक टेटू देखा था, विल्कुल वेसा ही टेटू इस डोक्टर के हाथ पर हैं लेकिन अभि प्रज्ञा की बात का यकीन नहीं मानता है| फिर मीरा की आवाज आती है कि मुझे बचाओ ये चौर वही हैं जो ज्वेलरी स्टोर में रोबरी करने आए थे और ये इस हार को लेने आए हैं| फिर गोगा और उसका साथी मीरा को पकड़ लेते हैं|

फिर मीरा उस हार को प्रज्ञा की तरफ फैंक देती है और गोगा प्रज्ञा के हाथ में उस हार को देख कर वह चाकू फैंक कर मारता हैं लेकिन प्रज्ञा अपना बचाओ कर लेती हैं| फिर प्रज्ञा उस हार को लेकर भागने लगती है और एक गमले में उस हार को छुपा देती हैं| अभि और वहां के लोग कुछ कर पाते उससे पहले गोगा के दूसरे साथी आ जाते हैं और सभी को गन पॉइंट पर कर लेते हैं| फिर अभि एक चौर का ध्यान भटका देता है और उनके हाथों से गन गिरवा देता हैं| फिर वहां खड़े सभी लोग चौरों को पीटने लगते हैं|

इधर प्रज्ञा को गोगा और शेलेश पकड़ लेते हैं और उसे हार पूछते हैं| तब प्रज्ञा उन चौरों से कहती है कि उस हार को लेकर तुम किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचोगे| फिर गोगा उससे कहता है कि ज्वेलरी स्टोर में जिस लड़की की बजह से हमारा प्लान फ़ैल हुआ था, उसे छोड़ कर हम किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगे|

इधर अभि, आलिया, राज और वहां खड़े सभी सदस्य चौरों को पीटते हैं| फिर प्रज्ञा को गन पॉइंट पर गोगा और शेलेश लेकर आते हैं उन्हें देख कर अभि और सभी लोग रुक जाते हैं|

इधर रिया रणबीर को आवाज लगाती है और भागती हुई जाती है| तब उसे चौरों का साथी गुरु मिल जाता है और वह उसे पहचान लेता है कि ये वही लड़की है, जिसकी बजह से हमारा प्लान फ़ैल हुआ था और गुरु रिया के पीछे उसे पकड़ने के लिए भागता हैं| तब रिया सभी को आवाज लगाती हुई भागती हैं कि ज्वेलरी स्टोर वाले चौर आ गय हैं तुम सब अपने – अपने कमरे में छुपे रहना|

(‘अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,)

क्या होगा आने वाले एपिसोड में?

ये जानने के लिए जुड़े रहें हमारे साथ!

Leave a Reply