Kumkum Bhagya 30 October 2020 Written Update: आखिर अभि को अपनी बेटी प्राची से मिलने आना पड़ा!

0

Kumkum Bhagya 30 October 2020, Kumkum Bhagya 30 October 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 30 October 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 30 October 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 30 October 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिचले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे आलिया प्रज्ञा को अभि से दूर जाने के लिए अपने शब्दों का जाल बुनती है और अभि आलिया पर हाथ उठता है लेकिन प्रज्ञा रोक लेती है| फिर आलिया रिया की परिवरिश की कीमत के बदले में प्रज्ञा को अभि की जिंदगी से दूर जाने को कहती है| प्रज्ञा वहां से चली जाती है और रास्ते में प्राची का फोन आता है| इसी बीच, अभि प्राची से मिलने उसके चला जाता है| रणबीर रिया को समझाने जाता है कि उसके बोलने से मैं और प्राची बहुत खुश रहेंगे| प्राची अपनी माँ को ढूँढने जाती है|  

Kumkum Bhagya 30 October 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, जब प्रज्ञा अपनी बेटी रिया से मिलती है और रिया से बहुत प्यार से बातें करती है लेकिन रिया बेहोश होती है| क्योंकि नर्स ने बेहोशी का इंजेक्शन दिया था| लेकिन प्रज्ञा रिया से कहती है कि मैंने तुझे बहुत परेशान किया है और मैं जानती हूँ कि तू मुझे कभी माफ़ नहीं करेगी| लेकिन रिया तुम्हारी माँ तुमसे बहुत प्यार करती है| प्रज्ञा रो – रो कर रिया से अपने प्यार का बखान करती है| प्रज्ञा बार – बार कहती है कि मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ|

प्रज्ञा रिया को उठने को कहती है| लेकिन रिया इंजेक्शन की बजह से गहरी नींद में होती है| प्रज्ञा कहती है कि मैं तुझसे बीस साल से प्यार करती हूँ और हर साल तेरा जन्मदिन भी मनाती हूँ| प्रज्ञा रिया को रो – रो कर सब कुछ बताती है कि बेटी तेरे हर साल मनाए जन्मदिन के केन्डल्स और तोहफे मैंने आज भी संभाल कर रखे है|

इधर रणबीर अस्पताल में आ जाता है और रिया के कमरे के बारे में एक नर्स से पूछता है| तब नर्स रणबीर से कहती है कि रिया नाम की पेशेंट आई सी यू रूम में है और वो घर जाने की जिद कर रही थी, इसलिए मैंने उसे नींद का इंजेक्शन दे दिया है क्योंकि डिस्चार्ज के बिना नहीं जाने दे सकते| ये सुन कर रणबीर ने पूछा कि मैं उससे मिल सकता हूँ| तब नर्स ने कहा कि तुम मिल सकते लेकिन अभी वहां कोई लेडीज हैं| ये सुनकर रणबीर समझता है कि शायद वहां आलिया आंटी होंगी क्योंकि रिया से सबसे ज्यादा प्यार तो आलिया आंटी ही करती हैं|

इधर प्रज्ञा रोती है और रिया से अपना प्यार बयाँ करती है और बार-बार रिया का माथा चूमती है| तभी वहां रणबीर आता है और जैसे रणबीर आई सी यू कमरे का दरवाजा खोलता है, तो उसे रिया के पास प्रज्ञा रोती हुई दिखाई देती है| प्रज्ञा को देख कर रणबीर चौंक जाता है और बाहर वापिस चला जाता है| फिर प्रज्ञा अपनी बेटी रिया से बहुत सारीं बातें करती है| तब प्रज्ञा ने कहा कि बेटी रिया तेरे पास मैं तब तक नहीं आ सकती, जब तक तुम मुझे नहीं बुलाती|

फिर प्रज्ञा रिया का माथा चूम कर चली जाती है| जैसे ही प्रज्ञा कमरे से बाहर जाती है वैसे ही रिया को होश आ जाता है और होश आते ही रिया की जुबान पर माँ शब्द आता है| तब प्रज्ञा उसकी आवाज सुन लेती है और रुक जाती है| तब रिया अपने बेड से उठ कर दरवाजे की ओर आती है और वो सरिता आंटी की बातों को याद करती है, जो प्राची का एक्सीडेंट होने पर रिया से कहीं थी कि माँ – बाप का प्यार तुझ जैसी लड़की के नसीब में नहीं है| ये सोच कर रिया रुक जाती है|

इधर जब प्रज्ञा उसकी आवाज सुनकर द्वारा कमरे की और जाती है| तब प्रज्ञा ने सोचा कि रिया आवाज कैसे दे सकती है क्योंकि वोतो सो रही थी| ये सोच कर प्रज्ञा रिया की उन बातों को याद करती है, जो रिया ने कहा कि तुम माँ के नाम पर एक दाग हो| ये सोच कर प्रज्ञा आगे नहीं बढती है| तब प्रज्ञा अपने घर चली जाती है| इधर रिया ये सोचती है कि मेरी माँ यहाँ क्यों आएंगी वो तो प्राची के पास होंगी क्योंकि उन्होंने मुझे नहीं चाहा है| उन्होंने सिर्फ प्राची को ही चाहा है| फिर रिया अपने बेड पर बैठ जाती है|

इधर जब प्रज्ञा अपस्ताल से अपने घर जाती है, तब आगे रणबीर मिल जाता है और प्रज्ञा रणबीर से कहती है कि ये बात किसी को मत बताना कि मैं यहाँ रिया से मिलने आई थी| ये कह कर प्रज्ञा अपने घर चली जाती है|

इधर प्राची अपनी माँ को ढूँढने जाती है| तब रणबीर का फोन आ जाता है| रणबीर ने कहा कि प्राची तुम परेशान क्यों हो और रो क्यों रही हो| तब प्राची बताती है कि मैं अपनी माँ को ढूँढने जा रही हूँ| क्योंकि जब उन्होंने मुझे फोन किया था, तब वो बहुत परेशान थीं और रो रही थी| फिर अचानक उनका फोन कट हो गया था| ये सुन रणबीर बता देता है कि मैंने तुम्हारी माँ को सिटी हॉस्पिटल के पास देखा है| ये सुन प्राची फोन कट कर देती है और हस्पताल जाने के लिए टेक्सी को रोकने की कोशिश करती है|

प्राची टेक्सी और ऑटो को रोकने की कोशिश करती है लेकिन कोई नहीं रोकता है| तभी अचानक अभि की कार आ जाती है| उसे देख कर प्राची पीछे को मुड जाती है और अभि की कार निकल जाती है| तभी कुछ दूरी पर अभि अपनी कार को रोक लेता है क्योंकि उसकी कार की एसी ख़राब हो जाती है| फिर अभि प्राची को अपने कार में लगे शीशे में देख लेता है और उसके पास आ जाता है| अभि प्राची के पास आया और उसे देख कर रोने लगता है| ये देख प्राची कहती है कि सर तुम क्यों रो रहे हो?

फिर अभि प्राची से कहता है कि मैंने तुम्हे बहुत परेशान किया है| ये सुन प्राची हाँ बोल देती है| तब प्राची ने कहा कि सर मुझे तुम्हारी किसी भी बात का बुरा नहीं लगा| सिर्फ एक बात का बहुत बुरा लगा जिसे मैं नहीं भुला पाई| प्राची ने कहा कि मुझे तुम्हारी ये बात बुरी लगी जो तुमने कहा था कि अच्छा हुआ तेरे पापा नहीं है, अगर होते, तो वे बहुत सर्मिन्दा होते| बस मुझे ये ही बात बहुत बुरी लगी और इसे मैं नहीं भुला पाई| लेकिन मैंने अपनी माँ को सब कुछ बता दिया क्योंकि मैं अपनी माँ से कुछ नहीं छुपाती हूँ|

प्राची कहती है कि मेरी माँ बहुत गुस्से में गईं थी और अगर मेरी माँ ने तुमसे गुस्से में कुछ कहा हो, तो उनकी तरफ से मैं माफ़ी मांगती हूँ| अभि ने कहा कि प्राची तुम मुझसे सर मत बोलो| तब प्राची ने कहा कि मैंने तुम्हारा दिल दुखाया है इसलिए मैं समझ नहीं पा रही कि तुमसे क्या बोलूं? प्राची कहती है कि मेरे लिए मेरी माँ सब कुछ है और मुझे पापा चाहिए भी नहीं क्योंकि मेरी माँ मेरे लिया मेरे पापा और माँ वो सब कुछ हैं| मेरी माँ ने मुझे मेरे पापा का प्यार दिया है|

फिर प्राची अपने माँ से मिलने के लिए ऑटो रुकवा लेती है| तब अभि प्राची से कहता है कि मैं तुम्हें ड्रॉप कर दुंगा और प्राची अभि की बात मान जाती है| अभि ने प्राची को पूछा कि तुम्हे कहाँ जाना है| तब प्राची सिटी हॉस्पिटल का नाम लेती है| अभि ने पूछा कि तुम सिटी हॉस्पिटल क्यों जा रही हो? तब प्राची बताती है कि सिटी हॉस्पिटल के पास मेरी माँ गई है| ये सुन कर अभि ने सोचा कि प्रज्ञा जरुर अपनी बेटी रिया से मिलने गई होगी|

प्राची की बातों को सुन कर अभि उसे नहीं बता पता है कि मैं तेरा पापा हूँ क्योंकि उसे लगा कि प्राची अभी गुस्से में है| और मैं नहीं चाहता कि मेरा बिछड़ा हुआ परिवार फिर से दूर हो जाए| तब अभि प्रज्ञा पर डिपेंड हो जाता है कि प्राची को प्रज्ञा ही बताए कि मिस्टर मेहरा ही उसके पापा है|

Leave a Reply