Television

Kumkum Bhagya 8 January 2021 Written Update: सरिता जी ने प्रज्ञा को अभि की महदी अपने नाम करने को कहा!

Kumkum Bhagya 8 January 2020, Kumkum Bhagya 8 January 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 8 January 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 8 January 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 8 January 2020, Kumkum Bhagya 8 January 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 8 January 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 8 January 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 8 January 2021 Written Update:

Kumkum Bhagya के  पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे अभि प्रज्ञा को उसके घर घर छोड़ता है और प्रज्ञा को पता चला कि उसने सपना देखा है| अचानक प्राची रणबीर से टकरा जाती है और उसे यकीन हो जाता है कि प्राची किसी मज़बूरी में आ कर मुझे हर्ट कर रही है| आर्यन रणबीर से अपने मोम – डेड को सच बताने को कहता है| इस बीच, प्रज्ञा अपने घर आ जाती है| आलिया रिया को प्रज्ञा के खिलाफ भड़काने की कोशिश करती है| पूरब अभि से मीरा के साथ शादी करने से मना करता है| अभि उसे अपने मामलों में दखल देने के लिए मना करता है|

Kumkum Bhagya 8 January Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में जब प्रज्ञा खाना बनाती है और अचानक उसे अभि की याद आ जाती है| फिर सरिता जी उसके पास आती है और उससे कहती है की तुझे दुःख है कि अभि मीरा से शादी कर रहा है| ये सुन कर प्रज्ञा सरिता जी को बताती है कि मुझे कोई दुःख नहीं है बल्कि मैं बहुत खुश हूँ कि मुझे छुटकारा मिल रहा है| ये सुन कर सरिता जी उससे कहती है कि तू कुछ कह रही है और तेरा चहरा कुछ कह रहा है लेकिन अपने प्यार से इतनी नफरत क्यों?

फिर सरिता जी उसे समझाती है कि प्रज्ञा तू अपना प्यार किसी और का मत होने दे लेकिन प्रज्ञा कहती है कि बहुत देर हो चुकी है| तब सरिता जी उसे समझाती है कि कल अभि की महदी है और उस महदी को किसी और का मत होने दे| प्रज्ञा सरिता जी की बात सुनती रहती है और सरिता जी कहती है की अभि की महदी अपने नाम करले, वो तेरी जिन्दगी है और तुम दोनों एक दूसरे से अलग होकर कभी खुश नहीं रह पाओगे| ये कह कर सरिता जी चली जाती है|

इधर राज एक बिजिनेश कॉल पर बात करता है और मिताली आ जाती है| मिताली को देख कर वह फोन काट देता है और मिताली उसे पूछती है कि तुम किससे बात कर रहे थे| वह उसे बिजनिश कॉल बता देता है और उसे उसकी बात पर यकीन हो जाता है| फिर मिताली राज को ज्वेलरी दिखाती है और बहुत खुश होती है| तब राज से कहती है कि ये ज्वेलरी मैं अभि की हल्दी रश्म के दिन पहनूंगी और मीरा मेरी नई दिवरानी बनेगी, जिससे मैं बहुत खुश रहूंगी और उस पर अपना हुक्म चलाऊँगी|

फिर मिताली और राज की बाते अंजली दादी सुन लेती है और उनसे कहती है कि तेरी दिवरानी सिर्फ और सिर्फ प्रज्ञा है और उसकी जगह कोई नहीं ले सकता है| अंजली दादी राज से कहती है कि तू तो बचपन से अभि के साथ रहा है| क्या तुझे नहीं मलूम कि अभि की ख़ुशी किस में है लेकिन तुम सब पागल हो चुके हो| फिर अंजली दादी चली जाती है और कहती है कि अपनी – अपनी ख़ुशी सब देख रहे हैं लेकिन अभि और प्रज्ञा की ख़ुशी कोई नहीं देख रहा है|

इधर पूरब सो रहा होता है और वह सपना देखता है लेकिन सपने में वह दिशा के साथ बिताये पलों को याद करता है| फिर आलिया उसे सोता देख वह पूरब के पास आ जाती है और जैसे ही वह उसे हाथ लगती है| तब पूरब के मुहँ से दिशा का नाम निकलता है| उसके मुहँ से दिशा का नाम सुनते ही आलिया समझ जाती है कि पूरब दिशा को सपनो में देख रहा है और आलिया एक काँच का गिलास तोड़ देती है, जिससे पूरब की नींद टूट जाती है और वह अपने पास आलिया को खड़ा देखता है|

आलिया पूरब को हग करना चाहती है लेकिन पूरब उसे हग नहीं करता है| फिर पूरब का बेटा आर्यन आ जाता है और अपने बेटे के सामने पूरब को आलिया के नजदीक आना पड़ता है| फिर आर्यन चला जाता है और से जाते ही पूरब भी चला जाता है| तब आलिया आपने आप से कहती है कि आर्यन की बजह से तुम मेरे पास हो और हमेशा रहोगे लेकिन तुम्हारे दिल और दिमाग में दिशा का नाम तो क्या उसकी परछाईं भी नहीं आने दूंगी| जिस तरह से प्रज्ञा को मैंने भाई की लाइफ से हमेशा – हमेशा के लिए निकाल दिया है, उसी तरह मैं दिशा को भी तुम्हारे दिमाग से निकाल दूंगी|

इधर अभि की हल्दी रश्म की तैयारी होने लगती है और प्रज्ञा अपनी फैमिली को लेकर अभि के घर आ जाती है| अंजली दादी प्रज्ञा और उसकी फैमिली का स्वागत करती है| तब अभि और पूरब एक साथ तैयार हो कर आते है और अभि प्रज्ञा को देखता है| तब पूरब कहता है कि ये मीरा से शादी कर रहा है और प्रज्ञा को क्यों देख रहा है| फिर अभि प्रज्ञा के पास आता है और उसे अंजली, सरिता जी के बाद महदी लगाने को कहता है|

इधर राज आलिया से कहता है कि वह आ गया है और आलिया उसे एक गुप्त कमरे में लेजाने को कहती है| तब राज उससे हाथ मिलाता है और उसे अपने साथ ले जाता है|

इधर शाहाना और प्राची आपस में बातें करतीं हैं और रिया को ढूंढती है लेकिन उन्हें रिया कहीं नहीं दिखाई देती है| फिर रणबीर आता है और प्राची को देख लेता है| फिर शाहाना प्राची को बताती है कि रणबीर हमारे पास आ रहा है लेकिन उसे आर्यन पकड़ लेता है और उसे सबके सामने प्राची से बात करने से मना करता है लेकिन रणबीर नहीं मानता है और आर्यन को साथ लेकर प्राची के पास आता है और रणबीर को अपने पास आता देख, प्राची वहां से चली जाती है|

इधर अभि की हल्दी रश्म शुरू हो जाती है और अंजली दादी पहले अभि को हल्दी लगाती है| फिर सरिता जी आती है और अपने हाथ में हल्दी लेकर फिर वापिस उसी जगह रख देती है| फिर अभि प्रज्ञा को हल्दी लगाने के लिए बुलाता है और प्रज्ञा अभि के हल्दी लगाते वक्त वह अभि के ऊपर गिर जाती है और प्रज्ञा के भी हल्दी लग जाती है| फिर प्रज्ञा चली जाती है| तब अभि आलिया से कहता है कि तुम मीरा के हल्दी लगा देना मैं अभि आ रहा हूँ| आलिया कहती है कि भाई तुम नहीं लगवाओगे हल्दी|

तब अभि आलिया से कहता है कि मुझे जिनसे लगवानी थी, मैं उनसे लगवा चूका हूँ| ये कह कर अभि प्रज्ञा के पीछे चला जाता है| फिर मिताली मीरा के हल्दी लगाती है और मीरा के गलों पर वह हल्दी बहुत तेज चेंटने लगती है| ये देख कर एक लेडीज मीरा को अपने साथ ले जाती है| ये सब देख कर पल्लवी विक्रम से कहती है कि ये हो क्या रहा है? पहले अभि चला गया और अब मीरा| ये सुन कर विराम उससे कहता है कि दिमाग मत चलाओ, जो हो रहा है, उसे शांत पूर्वक देखो|

इधर रणबीर प्राची को पकड लेता है और उसे पूछता है कि तुम्हारी क्या मजबूरी है लेकिन प्राची उसे वही कहती है जो उसने पहले कहता है कि मुझे पैसे वाला लड़का चाहिए लेकिन रणबीर उसकी बात पर यकीन नहीं करता है और उसके हाथों पर हल्दी लगा देता है| फिर रणबीर उससे कहता है कि मैं चाहता तो ये हल्दी तुम्हारे गालों पर भी लगा सकता था| लेकिन मैं तुम्हे नहीं, तुम्हारी रूह को छूना चाहता हूँ| ये सुन कर प्राची इमोशनल हो जाती है और आर्यन का फोन आ जाता है|

रणबीर आर्यन से बात करने कुछ देर के लिए एकांत में चला जाता है लेकिन रणबीर और प्राची के बीच हुई बातों को रिया सुन लेती है और रणबीर के जाते ही वह प्राची के पास आ जाती है| तब प्राची उससे कहती है कि तुमने अपना काम नहीं किया लेकिन मैंने अपना काम कर दिया है| रणबीर मुझ से नफरत करेगा| तब रिया उससे कहती है कि मैंने भी अपना काम कर दिया है| ये सुन कर प्राची उससे कहती है कि अगर तुमने अपना काम किया होता, तो आज हल्दी रश्म नहीं हो रही होती|

प्राची की बात सुन कर रिया उससे कहती है कि बात शादी रोकने की हुई थी, हल्दी की नहीं और ये शादी है कोई आसान काम नहीं है| फिर प्राची भी उसे जबाब देती है कि ये दिल है, इतनी आशानी से नहीं टूटते हैं| फिर रणबीर प्राची के पास आता है और प्राची उसे देख कर चली जाती है और रिया रणबीर को पकड लेती है| तब रणबीर गुस्से से अपना हाथ छुढाता है और उससे कहता है कि तुझे मेरे और प्राची के बीच आने की जरुरत नहीं| ये सुन कर रिया को बहुत गुस्सा आ जाता है और रणबीर से कहती है कि तुम्हारी इतनी हिम्मत|

इधर अभि प्रज्ञा को पकड़ लेता है और प्रज्ञा उससे कहती है कि तुम मुझसे क्या चाहते हो? तब अभि उसे बताता है कि जिसे तुम पसंद नहीं करती हो उसे करने में मुझे बहुत अच्छा लगता है| ये सुन कर प्रज्ञा इमोशनल हो जाती है और वह प्रज्ञा को जोर से हग कर लेते है|

(‘अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,)

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here