Kumkum Bhagya 9 November 2020 Written Update: प्रज्ञा ने की अभि को मनाने की कोशिश लेकिन अभि ने किया उसे हार्ट!

0

Kumkum Bhagya 9 November 2020, Kumkum Bhagya 9 November 2020 Written Update, Zee5,Zee TV, Kumkum Bhagya 9 November 2020 Full Episode, Zee Anmol Kumkum Bhagya Natak Kumkum Bhagya 9 November 2020 Spoiler Alert, Prachi,Pragya

Kumkum Bhagya 9 November 2020 Written Update:

Kumkum Bhagya के पिछले एपिसोड में, हमने देखा कि कैसे अभि प्रज्ञा का हाथ पकड़ता है और छोड़ता है| बिताली ये सब आलिया को बताती है और वो उसे उससे बदला लेने को कहती है| इस बीच, दीदा पल्लवी को सगाई की अंगूठी दिखाती है और रणबीर पूछता है, तो उसे वो अपनी होने वाली बहू के लिए बताती है| रणबीर आर्यन को बताता है कि उसकी और प्राची की सगाई आज होगी और रिया रणबीर से टकराती है|

अभि ने प्रज्ञा का हाथ पकड़ा ये देख आलिया ने बिताली को उसके खिलाफ किया खड़ा!

अभि को प्रज्ञा फिर से मिलती है तो विक्रम उसे पूछता है कि वो कौन लगती है तेरी? फिर रणबीर और पर्ची मिल जाते हैं और एक दूसरे की आँखों में प्यार से देखते है| तब रिया उन्हें देख कर बहुत गुस्सा करती है|

bollypluse, bollypluse write for us
https://bollypluse.in/write-for-us/

Kumkum Bhagya 9 November 2020 Full Episode:

Kumkum Bhagya शो में, इस एपिसोड के शुरुआत में, जब प्राची और रणबीर जूस की ट्रे लेकर सब मेहमानों को जूस देते हैं क्योंकि रणबीर और प्राची में एक शर्त लगी थी कि कौन पहले जूस की ट्रे खाली कर लेगा| ये सब रिया देखती रहती है| फिर एक औरत आ कर रणबीर को बताती है कि ये लड़की तुमसे बहुत प्यार करती है| ये सुन कर रणबीर बहुत खुश हो जाता है और प्राची के पीछे – पीछे चलता है लेकिन प्राची की ट्रे जल्दी खाली हो जाती है और रणबीर एक जूस का गिलास पी लेता है और एक गिलास गमले में फेला देता है|

फिर रणबीर प्राची के पास आता है और उससे कहता है कि तुमने कहा था कि जूस की ट्रे खाली हो जाएगी, तब मैं तुम्हारे साथ चलूंगी| तब रणबीर प्राची का हाथ पकड़ कर उसे कुछ दिखाने के लिए अपने साथ ले जाता है और ये सब रिया देख कर प्राची पर बहुत गुस्सा करती है|

इधर प्रज्ञा अपने वर्करों को समझाती है कि तुम टाइम से खाना खालेना वर्ना बाद में आपको टाइम नहीं मिलेगा| तब बिताली प्रज्ञा को देखती है और आलिया की कई हुए बातें को याद करती है| फिर बिताली प्रज्ञा को आवाज लगाती है और प्रज्ञा उसे देख कर बहुत खुश होती है| लेकिन बिताली प्रज्ञा के साथ एक नौकर जैसा ही बर्ताव करती है| ये सुन कर प्रज्ञा ने कहा कि भाबी मुझे कोई गलती हो गई क्या? लेकिन वो उसकी एक नहीं सुनती और प्रज्ञा को बहुत बुरा भला कहती है|

फिर बिताली ने कहा कि तुम जाओ और मेहमानों को देखो मेरे साथ गप्पे मत लड़ाओ| ये सुन प्रज्ञा वहां से चल देती है| फिर बिताली उसे रोकती है और कहती है कि ये स्टार्टस की ट्रे मुझे देदो मुझे भी भूंख लगी है| लेकिन प्रज्ञा दूसरी ट्रे मांगने को कहती है| बिताली ने कहा कि मैं यही खाऊँगी| प्रज्ञा बताती है कि ये ज्यादा गर्म है लेकिन वो नहीं मानती है और बिताली स्टार्टस खाती है और उसका मुहँ जल जाता है| प्रज्ञा वहां से चली जाती है और बिताली कहती है कि उसने जान बूझकर मेरा मुहँ जलाया है|

इधर रिया प्रज्ञा को ढूंढती है और सोचती है कि अब प्राची को प्रज्ञा आंटी सम्भाल सकती है| फिर रिया को प्रज्ञा दिख जाती है और प्रज्ञा उसे देख लेती है| तब वे दोनों एक दूसरे को देखतीं हैं| फिर प्रज्ञा रिया की तरफ एक तीर आते हुए देख लेती है और रिया को उस तीर से बचा लेती है| क्योंकि वहां रामलीला की प्रेक्टिस चल रही थी| लेकिन रिया प्रज्ञा को थेंक यू, बोलकर वहां से चली जाती है और प्रज्ञा उसे बहुत प्यार से देखती है| तब रिया मानशिक तोर से सोचती है कि मैं प्राची की जगह होती तो ये मेरे लिए दुनिया से लड़ जाती|

इधर सरिता आंटी शाहाना से काम करने को कहती है| तभी वहां आलिया आ जाती है और उनके बनाए हुए जूस और स्टार्टस को बेकार बताती है| तब सरिता आंटी कहती है कि अगर मेरे सामान ख़राब है तो ये ट्रे की ट्रे क्यों जा रहीं है और मुझे डिमांड आ रही है कि और बनाओ| आलिया कहती है कि तुम मुझसे जवान सम्भाल कर बात करो वर्ना आपको भगा दिया जाएगा| ये सुन सरिता आंटी ने कहा कि तू क्या हमें भगाएगी, हम खुद ही चले जाते हैं| ये सुन आलिया को लगा कि ये चले गए तो मुझे परेशानी होगी|

फिर आलिया सरिता आंटी को रोक लेती है| तब सरिता आंटी ने कहा कि हम तब रुकेंगे जब तुम हमसे माफ़ी मांगोगी| ये सुन आलिया को मजबूरन माफ़ी मंगनी पड़ती है और गुस्से में चली जाती है|

इधर प्रज्ञा स्टार्टस की ट्रे लेकर जाती है और अचानक अभि से टकरा जाती है| तब अभि के कपड़ों पर सब्जी गिर जाती है जिससे उसके कपडे ख़राब हो जाते हैं| तब वो बहुत बुरा भला सुनाता है और जब उसे देखता है तो इमोशनल हो जाता है| तब प्रज्ञा से कहता है कि तुम्हारी कोई गलती नहीं है| ये सुन कर प्रज्ञा ने कहा कि तुम छोटी सी बात को लेकर परेशान हो जाते हो और मैंने तुम्हे प्राची से मिलने से नहीं मना किया था वल्कि मेरे कहने का ये मतलब था कि प्राची से अभी सच छुपाना है क्योंकि वो अभी सच सुनने के लिए तैयार नहीं है|

फिर अभि गुस्से में एक खम्बे में हाथ मार देता है और उसके हाथ में चोट लगजाती है| फिर अभि वोशरुम में चला जाता है| उसके पीछे प्रज्ञा भी चली जाती है और उसके हाथ में लगी चोट पर पट्टी बांधने की कोशिश करती है और अभि उसे हाथ पकड़ने नहीं देता है| तब अभि प्रज्ञा से कहता है कि जब तुम मुझे अपनी बेटी से मिलने के लायक नहीं समझती, तो परवाह के लायक क्यों समझती हो? और ये भी कहता है कि तुमने मुझे बहुत हर्ट किया है| प्रज्ञा शांत रहती है और उसके हाथ में लगी चोट पर पट्टी बाँधने की कोशिश करती है|

फिर अभि कहता है कि जब बड़ी चोट देकर कोई फर्क नहीं पड़ा, तो छोटी चोट देख कर आपको दर्द क्यों हो रहा है| तब प्रज्ञा ने उसे जवाब दिया कि दर्द आपकी चोट देख कर नहीं, आपकी सोच देख कर होता है और हर्ट मैंने नहीं, आपने किया है मुझे| ये सुनकर अभि कहता है कि इतना बड़ा बिजनिश मेन नहीं हूँ मैं, दर्द का लेन देन करना तो सिर्फ तुम कर सकती हो, ये तुम्हारा बिजनिश है, मेरा नहीं|

प्रज्ञा कहती है कि ये बिजनिश करके मैंने इतनी खुशियाँ कमाई है कि कभी कोई कमी महशूस नहीं हुई| ये सुन कर अभि कहता है कि सारी कमियाँ तुम मेरे लिए छोड़ कर जो गई थी| ये सुन प्रज्ञा इमोशनल हो जाती है और अभि वहां से चला जाता है|

इधर रणबीर प्राची का हाथ पकड़ कर अपने साथ ले जाता है और रिया उनका पीछा करती है कि रणबीर प्राची को कहाँ ले जा रहा है| लेकिन प्राची रणबीर को बार – बार पूछती है कि तुम मुझे कहाँ ले जा रहे हो? फिर वो रुक जाती है और रणबीर से कहती है जब तक तुम मुझे ये नहीं बताओगे कि मुझे कहाँ ले जा रहे हो? तब तक मैं तुम्हारे साथ नहीं जाउंगी| ये सुन कर रणबीर हर्ट हो जाता है और प्राची से कहता है कि तुम्हे मुझ पर भरोशा नहीं है और प्राची कहती है कि एसी बात नहीं है|

फिर रणबीर प्राची से कहता है कि अब मैं समझा, तुम भी मुझे दूसरे लडकों जैसा समझती हो| मैं अब तुम्हे कहीं नहीं ले जाऊंगा| मैं तुम्हारे लिए कबसे वैट कर रहा था और मैं समझता था कि हमारे बीच भरोषा है लेकिन तुम्हे मुझ पर कोई भरोसा नहीं है| रणबीर प्राची से गुस्सा हो जाता है और चला जाता है| फिर प्राची भी रणबीर को मनाने उसके पीछे चली जाती है और रिया उसका पीछा करते हुए, वो भी उसके पीछे चली जाती है| तब प्राची रणबीर को मनाती है लेकिन रणबीर कुछ सुनने को तैयार नहीं होता है|

फिर प्राची रणबीर का हाथ पकड कर उसे मनाने की कोशिश करती है| लेकिन रिया प्राची को उसका हाथ पकडे हुए देख लेती है और अपने मानशिक तोर पर कहती है कि प्राची रणबीर का हाथ छोड़ दो वर्ना कसम से, मैं कुछ भी कर जाउंगी|
अब आगे की कहानी आने वाले एपिसोड में,

Leave a Reply