Kundali Bhagya 22 October 2020 Written Update: क्या करण प्रीता को फिर से प्यार करने लगा है?

0

Kundali‌ ‌Bhagya‌ ‌2! October ‌2020‌ ‌Written‌ ‌Update,‌ ‌ Kundali‌ ‌Bhagya‌ ‌21 October ‌2020,‌ ‌ Kundali‌ ‌Bhagya‌ ‌2! October ‌2020‌ ‌Spoiler‌ ‌Alert,‌ ‌ Kundali‌ ‌Bhagya‌ ‌2! October ‌full‌ ‌episode‌ ‌ zee anmol kundali bhagya natak Zee5,‌ ‌ Zee‌ ‌TV,‌ ‌ Kundali‌ ‌Bhagya‌, Preeta,Mahira, Sharlin, Karan

Kundali Bhagya 22 October 2020 Written Update

कुंडली भाग्य पिछले एपिसोड में, करण, प्रीता से पूछता है की तुम कहाँ गयी थी| इस पर प्रीता, करण जबाब नहीं देती है बल्कि बात को घुमा देती है| वहां पर करीना और राखी आ जाती है और वो भी प्रीता के पार्टी में ना होने की वजह पूछती है| इस पर प्रीता कहती है की उसको घुटन हो रही थी कुछ लोगों के आस-आस होने से| इस पर राखी कहती है की सरला सही बोल रही थी की तुमको माहिरा के आस-पास होने से घुटन होती है| राखी प्रीता की मुँह दिखाई की रस्म फिर से करने का फैसला करती है और पार्टी में आये सभी रिश्तेदारों को निमंत्रण भी देती है| वहीँ करण, माहिरा से कहता है की तुम मेरे और प्रीता के बीच में मत आओ| वहीँ ऋषभ और करण समीर से वजह जानने की कोशिश करते है जिस पर समीर मना कर देता है की उसको कुछ नहीं पता|   

वहीँ प्रीता को पता चल जाता है की उसकी किडनैपिंग में शर्लिन का भी हाथ था| प्रीता शर्लिन को सुधर जाने के लिए कहती है क्योंकी लूथरा परिवार की बैज्ज्ती नहीं होने देना चाहती है| आगे कहती है और वो उसकी जेठानी भी है| शर्लिन कहती है बड़ी अकड़ आ गयी है प्रीता करण लूथरा के नाम से| प्रीता इस पर कहती है की लूथरा सिर नेम में ही है अकड़|     

Kundali Bhagya 22 October 2020 Full Episode

कुंडली भाग्य के आज के नाटक में, शर्लिन, प्रीता से कहती है की, क्यों तुम रिश्ते तोड़ने और जोसने की बात करती हो| रिश्ते जोड़ने के लिए दो इंसानों की जरुरत होती है| वहीँ प्रीता कहती है की मैं चाहूँ तो एक चुटकी में ही तुम्हारा पर्दाफाश कर सकती हूँ| लेकिन मेरे लिए सबसे पहले मेरा परिवार है जिनको में परेशान नहीं देख सकती| आगे कहती है की ऐसा परिवार 10 जन्म लेने के बाद भी नहीं मिलेगा| तो इसके खिलाफ साजिश करना बंद करो|

वहीँ शर्लिन, प्रीता से कहती है की क्या मेरा परिवार है| ये मेरा परिवार है| तभी प्रीता कहती है की अगर ये तुम्हारा परिवार है तो तुम्हारा प्रथ्वी के साथ क्या रिश्ता है? प्रीता, शर्लिन से कहती है की मेरे रोके वाले दिन जानकी आंटी ने तुमको प्रथ्वी की बाहों में देख लिया था लेकिन एक बार नहीं कई बार| जब जानकी आंटी ने तुमसे सवाल किया झगड़ा किया| तब तुमने उनको मारने की कोशिश की थी| यह सुनकर शर्लिन हैरान हो जाती है| वहीँ यह भी कहती है की जानकी आंटी किसी को बताना दे, इसलिए तुमने उनको कार से कुचलने की कोशिश की| और उनकी यादाशत चली गयी|

आगे प्रीता कहती है कि भगवान ने हमारा साथ दिया और उनकी यादाशत वापस आ गयी, और उन्होंने सारी सच्चाई मुझे बता दी| इस शर्लिन यह जबाब देती है की मेरा प्रथ्वी के साथ कुछ नहीं था बस 4 दिन फ्लिंक था| और तुमने जानकी आंटी का विश्वास भी कर लिया| शर्लिन यह भी बताती है की प्रथ्वी के साथ-साथ 4 लड़के और मेरे बॉयफ्रेंड थे| लेकिन ये सब किस को जाकर बताओगी| जब तुम्हारे साथ इतना बड़ा हादसा हो गया| ये सब किसी को नहीं बता सकती, तो मेरा चक्कर प्रथ्वी के साथ चल रहा था ये कैसे बताओगी| 

प्रीता कहती है की तुम चहरे से चालाक और शातिर लड़की लगती हो और साथ ही तुम एक बेफकूफ लड़की हो| वहीँ प्रीता कहती है की तुमने कैसे सोच लिया की मैं तुम्हारी इन कहनियों पर विश्वास करुँगी| आगे बताती है की सबने मुझ से पूछा था की मैं कहाँ गयी थी जो बात मैंने सबको बताई थी उस पर सबने विश्वास किया था और मेरी हेर बात पर वो विश्वास करेंगे, क्योंकी मेरे पास तुम्हारे खिलाफ सबूत भी है और गवाह भी| यह सुनकर शर्लिन परेशान हो जाती है|

प्रीता आगे कहती है की, लेकिन मैं ऐसा नहीं करुँगी| क्योंकी तुम्हारे इन कुकर्मो की वजह से मैं अपने परिवार को परिशानी में नहीं डाल सकती| और शर्लिन को सबक सिखाने की बात भी कहती है| और आगे कहती है की यह लड़ाई मेरे, माहिरा और तुम्हारे बीच की है| प्रीता, शर्लिन के कमरे से जाते-जाते वार्निंग देती है की वो ये ना सोचे की प्रथ्वी वाली बात किसी से नहीं कहेगी| प्रीता कहती है की जब में सारे राज खोलूंगी तब तुम्हारे पास छिपने की लिए कुछ नहीं होगा| और शर्लिन को लूथरा हाउस से बाहर का रास्ता दिखाने की भी धमकी देकर जाती है|

वहीँ सरला, जानकी से कहती है की, तुमने पार्टी में कुछ नोटिस किया था| जानकी जवाब देती है की हाँ मैंने करण और प्रीता को साथ में खुश होते देखा| सरला जबाब देती है की मैं सृष्टि और समीर की बात कर रही हूँ| जिसे सुनकर जानकी हैरान हो जाती है| और अनजान बनाने की कोशिश करती है| सरला बताती है की सृष्टि बड़ी तो हो गयी है लेकिन उसका दिल अभी भी बच्चे जैसा है और उसको लगता है की सभी लोग अच्छे है| वहीँ चिंता करते हुए कहती है की कहीं लूथरा हाउस वाले मिलकर मेरी जिंदगी में मुसीबत ना ले आये| जानकी, सरला को बताती है की उसकी बड़ी बहन संभाल लेगी| 

इस पर सरला जबाब देती है की प्रीता तो अभी अपनी जिंदगी ही संभाल रही है| और अपने रिश्तों को ठीक करने में लगी हुई है| और महेश जी ठीक हो जाये और सभी लोग उसे अपना ले| सरला वहां से उठकर चली जाती है तब जानकी अपने आप से कहती है की समीर बहुत बढ़िया लड़का है और दोनों बहने एक ही घर में रहेंगी| 

वहीँ राखी, सरला की बातों को याद करती है और महेश जी से कहती है की सरला ठीक बोल रही थी की मैंने ही माहिरा को जाने से रोक रखा है| राखी महेश से कहती है की मैं प्रीता की सास हूँ और सास का फर्ज होता है की बहू के साथ कुछ गलत हो रहा है तो में उसका हेर कदम पर साथ दूँ| आगे कहती है की माहिरा ने तो घर की इज्जत मिट्टी में मिला दी थी लेकिन प्रीता ने सही समय पर आकर सब कुछ संभाल लिया| राखी महेश से कहती है की मैं माहिरा को बोलने जा रही हूँ की वो इस घर से चली जाये|

वहीँ प्रीता अपने कमरे में आती है तभी करण अचानक चिल्लाता है और प्रीता डर जाती है| दरसल दोनों के बीच में मजाकिया रूप से झगडा होने लगता है और प्यार भी| प्रीता करण से AC का तापमान कम करने को कहती है लेकिन करण मना कर देता है और प्रीता को कम्बल औड़ने को बोलता है| फिर दोनों के बीच में AC के रिमोट के पीछे नोक झोक होने लगती है|                                                

Leave a Reply