महिमा मकवाना की “शुभारंभ” टीवी शो की शूटिंग हुई शुरू, जाने पूरी कहानी  

0

mahima makwana , mahima makwana shubharambh serial colors, shubharambh tv serial, shubharambh natak

महिमा मकवाना एक अभिनेत्री है | जिन्होंने बालिका वधु में गौरी की भूमिका के साथ अपने करियर की शुरुआत की और ज़ी टीवी के कार्यक्रम सपने सुहाने लडकपन के में राचना की भूमिका निभाते हुए एक घरेलू नाम बन गई।

और स्टार प्लस पर रिश्तन का चक्रव्यूह में अनामी बलदेव सिंह। उसके बाद मरियम खान – रिपोर्टिंग लाइव में देखा गया। उनकी अन्य उल्लेखनीय कृतियों में इमेजिन टीवी की सवारे सबके सपने … प्रीतो और & टीवी के शो अधुरी कहानी हमरी शामिल हैं। वर्तमान में, मकवाना, शुभमंभ में रानी दवे रेशमईमा का किरदार निभा रही है।

महिमा मकवाना का वर्तमान टीवी सीरियल “शुभारंभ” में रानी दवे की भूमिका अदा कर रही है | जोकि यह टीवी सीरियल 2 दिसम्बर 2019 से कलर्स टीवी पर प्रसारित किया जा रहा है | जिनके साथ राजा रेशमिया के किरदार में अक्षित सुखीजा निभा रहे है | जिसमें वह रानी के पति है |

शुभारंभ सीरियल की कहानी

शुभारंभ की कहानी में राजा रेशमिया है जो एक अमीर घर का लड़का है, जिसमें आत्मविश्वास की कमी होती है | वहीँ दूसरी तरफ रानी दवे है जोकि एक गरीब परिवार की तेज़ लड़की होती है | राजा रानी से मिलता है राजा रेशमिया रानी दवे की मदद करने के लिए पुतले के रूप में खड़ा हो जाता है, जब वह रानी की मदद कर करता है | ये दोनों फिर से एक डंडिया प्रतियोगिता में फिर से मुलाकात होती है | जब राजा रानी की मदद करता है तब राजा की मां आशा सोचती है की रानी एक अमीर परिवार की लड़की है लेकिन उनको बाद में पता चलता है की रानी एक गरीब परिवार की लड़की है |   

इस कहानी में आगे यह होता है की – रानी का भाई उत्सव, राजा की मां आशा को बताता है की उसने 50 लाख की एक लोटरी जीती है | वह आशा से कहता है की अगर रानी के ससुराल वाले धनी है तो वह पैसे उनको दे देगा | जिसके बाद आशा को लालच आ जाता है और वह रानी के घर रिश्ते का प्रस्ताव लेकर जाति है | राजा और रानी इस रिश्ते के लिए सहमत हो जाते है (ये एक दूसरे से प्यार करते है ) | यहींं पर राजा के चाचा और चाची (गुनवंत रेशमिया और उनकी पत्नी कीर्तिदा रेशमिया ) इस शादी को रोकने की कोशिश करते है |

इस बीच सभी समारोह होने के बाद होने के बाद उत्सव को पता चलता है की उसने लौटरी के पैसे नहीं जीते है | लेकिन बाद में आशा को पता चलता है की उसने लौटरी के पैसे नहीं जीते है |

source

Leave a Reply