69000 शिक्षक भर्ती घोटाले में एक नया मोड़,150 में से 146 नंबर वाला टॉपर को गिरफ्तार

    उत्तर प्रदेश में हुई 69000 शिक्षकों की भर्ती में फर्जीवाडा सामने आया है | उत्तर प्रदेश की पुलिस अभी तक ऐसे 50 लोगों को गिरफ्तार कर रही है | जिन्होंने एग्जाम में टॉप किया था | इनमें से अभी तक 1 व्यक्ति की ग्रिफ्तरी हुई है जिसके परीक्षा में 150 में से 146 नंबर आये थे | आरोप है की इन व्यक्तियों ने 8 से 10 लाख रुपय लेकर परीक्षा में पास कराया है या पेपर लीक हुआ है | 

    Topper arrested in 69000 teacher recruitment scam, topper number 146 out of 150

    जो टॉपर धर्मेन्द्र पटेल जिसको सहायक शिक्षक भर्ती में 150 में से 146 नंबर मिले थे उससे जब पुलिस ने 5 कक्षा के सावल पूछे गए | तो वह बताने में असमर्थ रहा | जिसको पुलिस द्वारा जेल भेजा जा चूका है | प्रयागराज में एक स्कूल से पेपरलीक हुआ था | जिस स्कूल से पेपर लीक हुआ, वह मेडिकल ऑफिसर Dr.K L पटेल का बताया जा रहा है | कैबिनेट मंत्री रहे बीजेपी के नेता है |

    इन सभी फर्जीवाड़े में up के कैबिनेट मंत्री के रहे पूर्व बीजेपी नेता का नाम सामने आया है | इस नेता पर पहले भी फर्जीवाड़े के वजह से जेल भी जा चूका है और कुछ दिन पहले ही बाहर आया था | इस शिक्षक भर्ती पर पहले से ही काउंसिलिंग वाले दिन हाई कोर्ट द्वारा स्टे लगा दिया गया है | यह स्टे कुछ प्रश्नों के चलते लगा था |

    ABP न्यूज़ के मुताबिक इस गिरोह का खुलासा प्रयागराज में हुआ था जब इस मामले की जाँच हुई थी | इस गिरोह में अभी तक11 लोग पकडे जा चुके है | इस 11 लोगों में 2 अभ्यर्थी भी थे | प्रयागराज पुलिस के मुताबिक यह मामला प्रयागराज का ही नहीं पूरे प्रदेश का हो सकता है | इसलिए इस मामले की जाँच किसी ऊँचे एजेंसी जैसे STF के द्वारा की जाये | जिससे और भी खुलासे हो |

    प्रयागराज में जिस टॉपर को पकड़ा था वह दो लोग थे धर्मेन्द्र और विनोद | देखा जाये यह मामला 2 या 50 लोगों तक सीमित नहीं है | ABP न्यूज़ के मुताबिक इन लोगों ने प्रयागराज से 8-10 लाख रुपय देकर इन गिरोह को , अपनी answer शीत निकलवाई है , जिसके चलते ये लोग परीक्षा में पास हुए है |

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here